April 17, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सिंघु बॉर्डर पर शूटर बताए गए युवक का सनसनीखेज आरोप, किसानों के दबाव में दिया था झूठा बयान

नयी दिल्ली:- हरियाणा के कुंडली बॉर्डर से शुक्रवार को पकड़ा गए युवक का अब एक सनसनीखेज वीडियो सामने आया है जिसमें वह कह रहा है कि किसानों के दबाव में ही उसने पत्रकारों से बातचीत की थी। हरियाणा के सोनीपत निवासी योगेश ने कहा है कि वह 19 जनवरी को दिल्ली में अपने एक रिश्तेदार के घर आया था और दिल्ली में पैदल घुसते वक्त ही कुछ लोगों ने उसे अगवा कर उसकी पिटाई की थी।
वीडियो में युवक पुलिस के सामने कहा है कि उसे किसानों ने मारपीट कर प्रेस के सामने झूठ बोलने के लिए विवश किया था। युवक ने बताया कि उसके मामा के घर बेटे का जन्म हुआ था। वह वहां से लौट रहा था। उसे किसानों ने एक दिन पहले पकड़ा था। उससे मारपीट कर उसे प्रेस के सामने झूठ बोलने को विवश किया गया था। जिसके चलते सीआईए अब पूरे मामले से सच्चाई जानने का प्रयास कर रही है। योगेश ने कहा कि अगवा करने वाले लोगों ने उसे कैंप में ले जाकर उसके साथ मारपीट की थी और रात को उसे शराब भी पिलाई थी। योगेश ने अपने दावे में यह भी कहा कि उसके साथ कुछ और युवक भी पकड़े गए थे। सीआईए अब पूरे मामले से सच्चाई जानने का प्रयास कर रही है।
सिंघु बॉर्डर पर किसानों ने एक संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा है। किसानों का दावा है कि उसने आंदोलन को बाधित करने की साजिश रची है। इसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार जिस शख्स ने 26 जनवरी को ट्रैक्टर मार्च के दौरान चार किसान नेताओं की हत्या करने की साजिश का कथित रूप से खुलासा किया है उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया है। पुलिस की वर्दी पहनकर 60 युवकों को ट्रैक्टर परेड में बवाल और चार लोगों की हत्या करनी थी। साथ ही तिरंगा नीचे गिराकर बड़ा बवाल करने की योजना थी। उधर, इस मामले में पुलिस का कहना है कि नकाबपोश युवक से पूछताछ के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: