अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सरयू राय ने केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह को बोकारो स्टील से दामोदर नदी में फैल रहे प्रदूषण से अवगत कराया

नई दिल्ली:- केन्द्रीय इस्पात मंत्री आर सी पी सिंह से उनके उद्योग भवन, नई दिल्ली स्थित कार्यालय में मिला. मंत्री पद सम्हालने के लिये उन्हें बधाई दिया. साथ ही बोकारो स्टील लि० द्वारा दामोदर नद को प्रदूषित किये जाने की वस्तुस्थिति से उन्हें अवगत कराया. दामोदर बचाओ आंदोलन के साथियों एवं कतिपय पत्रकार मित्रों द्वारा भेजी गई तस्वीरें उन्हें दिखाया जिससे स्पष्ट हो रहा है कि किस प्रकार बोकारो स्टील लि० के दूषित अम्लीय प्रवाह से दामोदर का पानी लाल दिख रहा है.
सरयू राय ने इस्पात मंत्री को बताया कि किस प्रकार दामोदर बचाओ आंदोलन के सतत प्रयास से विगत 15 वर्षों में दामोदर के किनारे स्थित औद्योगिक इकाइयों ने अपना दूषित बहिस्राव दामोदर में जाने से रोक दिया. जिस कारण 2004-05 तक दुनिया के सर्वाधिक प्रदूषित नदियों में शुमार दामोदर का पानी 2018 आते आते औद्योगिक प्रदूषण से मुक्त होकर साफ़ हो गया और जगह जगह लोग इस पानी का घरेलू उपयोग करने लगे.
बोकारो स्टील भी दामोदर नद में गिरने वाले अपने दूषित बहिस्राव का “ज़ीरो डिस्चार्ज” करने पर सहमत हो गया और अपना एक नाला 2018 में बंद कर दिया. दूसरे नाला से भी 2019 के दिसंबर तक ज़ीरो डिस्चार्ज करने का वादा इन्होंने किया. इसके बाद कोविड के पहले चरण में औद्योगिक गतिविधियाँ नियंत्रित हो जाने के कारण वातावरण और नदियाँ ज़्यादा साफ़ हो गईं. पर अब लगता है कि बोकारो स्टील लि० वादाखिलाफी पर उतर आया है और अपना दूषित बहिस्राव दामोदर में फिर से गिराने लगा है.
उन्होंने इस्पात मंत्री से बोकारो स्टील से दामोदर में प्रदूषित बहिस्राव का ज़ीरो डिस्चार्ज करने और पानी का रिसाइक्लिंग करने का आदेश देने का आग्रह किया. ऐसा नहीं होने की स्थिति में दामोदर जल को प्रदूषित करने के लिये बोकारो स्टील लि० पर दंडात्मक कारवाई करने तथा उसे अपने दूषित बहिस्राव का डिस्चार्ज दामोदर में नहीं करना सुनिश्चित कराने के लिए आदेश देने की मांग की.

%d bloggers like this: