प्रकृति पर्व सरहुल आज है. यह पर्व हर साल चैत माह की तृतीया को मनाया जाता है. सरहुल पर्व की पूर्व संध्या पर राजधानी में विभिन्न आदिवासी छात्रावास व संगठनों के युवाओं ने आदिवासी पारंपरिक नृत्य का प्रदर्शन किया़  लाल पाड़ की साड़ी, खोंगसो, जुड़ा, पैड़ी व अन्य आभूषणों से सजी लड़कियां और पगड़ी, धोती, गंजी पहने लड़कों ने ‘बुरु से बुरु रे मानि दो, बेड़ा रे राई…’,   ‘ऐंदेर पुंपन मेझेर की पेलो..’ व अन्य गीतों पर नृत्य पेश किये़  

सरहुल के दौरान शहर की सुरक्षा और ट्रैफिक व्यवस्था बनाये रखने की तैयारियां पूरी

सरहुल त्योहार के दौरान राजधानी में सुरक्षा और ट्रैफिक व्यवस्था बनाये रखने की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. एसएसपी अनीश गुप्ता के निर्देशों के अनुसार रांची पुलिस व ट्रैफिक पुलिस के पदाधिकारी और जवान अपने-अपने मोर्चे पर पूरी तरह मुस्तैद रहेंगे. गौरतलब है कि सरहुल के मौके पर निकलने वाले जुलूस में बड़ी संख्या में लोग शामिल होते हैं.

इसके मद्देनजर राजधानी में प्रवेश करनेवाले सभी बाहरी मार्गों  पर ड्रॉप गेट बनाये गये हैं. सरहुल शोभायात्रा के दौरान शहरी क्षेत्र में  भारी वाहनों के प्रवेश पर भी प्रतिबंध है. वहीं, शहर में यातायात व्यवस्था को सामान्य बनाये रखने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने जगह-जगह बैरिकेडिंग की है. जुलूस के दौरान कई सड़कों से वाहनों का रूट डायवर्ट भी किया जायेगा. 

विभाग की ओर से जारी सूचना के मुताबिक दोपहर एक बजे से मेन रोड में सभी प्रकार के निजी वाहनों का परिचालन बंद कर दिया जायेगा. इसके अलावा एसएसपी आवास से रेडियम चौक, कचहरी के समीप स्टेट बैंक से रेडियम चौक, शहीद चौक, अलबर्ट एक्का चौक, काली मंदिर चौक, रतन पीपी, सुजाता चौक और मुंडा चौक से सिरमटोली सरना स्थल तक किसी भी प्रकार के वाहनों का परिचालन बंद रहेगा. 

सर्कुलर रोड से आनेवाले वाहन जेल चौक तक ही पहुंच पायेंगे. वहीं, राजेंद्र चौक से ओवरब्रिज और सुजाता चौक की ओर से वाहनों का परिचालन बंद रहेगा. कांटाटोली से बहूबाजार की ओर जानेवाले वाहनों का परिचालन बहूबाजार तक ही होगा. वहां से वाहन चुटिया थाना मार्ग होते हुए आगे जा सकेंगे. बहूबाजार से मुंडा चौक, सिरमटोली चौक सरना स्थल तक वाहनों का परिचालन बंद रहेगा.

राजधानी में प्रवेश करनेवाले सभी बाहरी मार्गों पर लगाये गये हैं ड्रॉप गेट, शोभायात्रा के दौरान भारी वाहनों की रहेगी नो इंट्री

रांची पुलिस और ट्रैफिक पुलिस के जवान रहेंगे मुस्तैद, पुलिस पदाधिकारियों और मजिस्ट्रेट की भी हुई तैनाती

ड्रोन कैमरों के अलावा शहर में जगह-जगह लगे सीसीटीवी कैमरों के जरिये भी की जायेगी जुलूस की निगरानी

जगह-जगह लगे हैं ड्रॉप गेट, कई महत्वपूर्ण सड़कों पर चलनेवाले वाहनों को दूसरे रूट में किया जायेगा डायवर्ट

सादे लिबास में भी तैनात किये जायेंगे पुलिसकर्मी 

शहर की सुरक्षा व्यवस्था में 1000 से अधिक जवानों के अलावा पुलिस अधिकारी और मजिस्ट्रेट भी तैनात रहेंगे. जुलूस में विधि-व्यवस्था की निगरानी ड्रोन कैमरों और सीसीटीवी कैमरों के जरिये की जायेगी. असामाजिक तत्वों की निगरानी के लिए अलग से सादे लिबास में वॉचर तैनात किये जायेंगे. इस दौरान सभी थाना प्रभारियों को एलर्ट रहते हुए गश्ती पर रहने का निर्देश दिया गया है. विधि-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न होने पर संबंध पुलिस पदाधिकारी मामले की तत्काल जानकारी अपने सीनियर पुलिस अधिकारियों को देंगे और विधि पूर्वक कार्रवाई करेंगे.

बिजली विभाग की ओर से दी गयी जानकारी के अनुसार सोमवार दोपहर 1:00 बजे से एहतियात के तौर पर शहर के विभिन्न हिस्सों की बिजली काटी जायेगी. बिजली की कटौती सरहुल शोभायात्रा की समाप्ति तक रहेगी. 

Leave a Reply

%d bloggers like this: