June 19, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

आरटीपीसीआर जांच में लाएं तेजीः उपायुक्त जीएनएम वार्ड के बगल में बनेगा 20 बेड का स्थाई स्ट्रक्चर

मेदिनीनगर:- कोविड-19 संक्रमण से बचाव को लेकर पलामू जिला प्रशासन पूरी तरह से कटिबद्ध है। एक और जहां वैक्सीनेशन का कार्य तेजी से चल रहा है, वहीं कोविड-19 सैंपल की जांच में तेजी लाते हुए लोगों को जांच रिपोर्ट शीघ्र उपलब्ध हो। इसे लेकर पलामू उपायुक्त शशि रंजन ने तत्परता दिखाने का निर्देश दिया है।
उपायुक्त शशि रंजन आज मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में डेडीकेटेड कोविड केयर सेंटर एवं अस्पताल के विभिन्न वार्डों का निरीक्षण किया। साथ ही अधिकारियों के साथ बैठक कर आरटीपीसीआर जांच में बैकलॉग के संबंध में चर्चा की। उन्होंने सैंपल जांच में तेजी लाने का निदेश दिया, ताकि लोगों को शीघ्र जांच रिपोर्ट मिल सके। उन्होंने कोविड-19 के पैथ लैब प्रभारी डॉ दिव्या से सैंपल जांच की जानकारी ली और जांच रिपोर्ट लंबित नहीं रखने का सख्त निर्देश दिया। उपायुक्त ने डीजी कंसलटेंट मेसर्स शापुरजी पालोनजी को जनरेटर से भी विद्युत की आपूर्ति पैथ लैब में शीघ्र सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया, ताकि जांच का सैंपल लंबित नहीं रहे। उपायुक्त ने कहा कि विद्युत की सप्लाई बंद हो जाने के बाद डीजी जनरेटर से विद्युत की आपूर्ति 10 मिनट के अंदर पैथ लैब में करना सुनिश्चित करें। डीजी जेनरेटर से विघुत की आपूर्ति में विलंब होने की परिस्थिति में संबंधित कंसलटेंट के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। साथ ही उनके खिलाफ डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत कानूनी कार्रवाई किया जाएगा।
उपायुक्त ने कार्य की अधिकता होने के कारण पैथ लैब के कर्मियों को सुबह 7 बजे बुलाने का निर्देश पैथ लैब प्रभारी डॉ. दिव्या को दिया। वहीं एमएमसीएच के अधीक्षक को पैथ लैब के कर्मियों को खाने-पीने की समस्या का समाधान करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने टेस्टिंग सर्विलांस ऑफिसर को निर्देश दिया कि जांच हेतु लिए गए सैंपल प्रतिदिन पैथ लैब में भिजवाना सुनिश्चित कराएं तथा इसकी सूचना सिविल सर्जन को भी दें। उपायुक्त ने निर्देश दिया कि सदर मेदिनीनगर के अंतर्गत सभी जांच केंद्रों से जांच के सैंपल प्रतिदिन एकत्र करते हुए सैंपल कलेक्शन के दिन ही एवं अन्य प्रखंडों के जांच केंद्रों से जांच हेतु सैंपल को अगले दिन जांच हेतु पैथ लैब में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने सिविल सर्जन को अपने स्तर से प्रतिदिन इसका मॉनिटरिंग करने का भी निर्देश दिया। उपायुक्त ने सैंपल प्रभारी डॉ. अनुप कुमार को निर्देश दिया कि सैंपल कलेक्शन केंद्र पर ही बारकोड का स्टीकर सैंपल पर लगाते हुए मरीजों का डेटाबेस की प्रक्रिया पूर्ण करें तथा उसकी हार्ड कॉपी सैंपल के साथ प्रतिदिन पैथ लैब में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें, ताकि जांच के कार्यों में अपेक्षित प्रगति लाया जा सके।
उपायुक्त ने जीएनएम वार्ड एवं अस्पताल का निरीक्षण के दौरान 20 बेड का स्थाई स्ट्रक्चर जीएनएम वार्ड के बगल में अभिलंब बनाने का निर्देश दिया। साथ ही इसमें वॉशरूम, शौचालय,पानी, बिजली की उपयुक्त व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। वहीं पाइप लाइन के द्वारा प्रति बेड पर ऑक्सीजन की व्यवस्था करें।उपायुक्त ने उप विकास आयुक्त को निर्देश दिया कि जिला परिषद के जिला अभियंता द्वारा एक माह के अंदर यह कार्य पूर्ण करना सुनिश्चित करेंगे। निरीक्षण व बैठक में उपायुक्त शशि रंजन, उप विकास आयुक्त सह वरीय पदाधिकारी शेखर जमुआर सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: