अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रिमझिम हत्याकांड : मुख्य साजिशकर्ता महिला को गिरफ्तार नहीं कर रही पुलिस


पटना:- यूपी के गाजीपुर में कार्यरत दंत चिकित्सक डॉ. विश्वजीत चतुर्वेदी की पत्नी सह ब्यूटी पार्लर संचालिका रिमझिम हत्याकांड की मुख्य महिला साजिशकर्ता की गिरफ्तारी नहीं होने पर कई सवाल खड़े हो रहे हैं। मारी गईं रिमझिम की बहन स्वेता पाठक का आरोप है कि पुलिस मुख्य साजिशकर्ता महिला को गिरफ्तार नहीं कर रही है, जबकि उसके गुनाहों के सभी सबूत पुलिस को सौंप चुकी हूं। स्वेता पाठक का दावा है कि उनकी आलमारी में बहन की जो डायरी मिली है, उसमें 50 लाख से अधिक रुपये की देनदारी मुख्य महिला साजिशकर्ता पर होने का जिक्र है, जबकि इस हत्याकांड में जेल गए आरोपित रोहित ने रिमझिम से 25 से 30 लाख रुपये लिए थे।
जेल गए रोहित की करीबी है महिला
स्वेता पाठक का आरोप है कि मुख्य महिला साजिशकर्ता जेल गए आरोपित रोहित की करीबी रही है। उसने ही विश्वास में लेकर मेरी बहन को रोहित से मिलने व बकाए रुपये लेने के लिए भेजी थी। वाट्स एप में रिमझिम द्वारा भेजे गए एक मैसेज में उक्त महिला पर देनदारी का जिक्र है। बावजूद इसके पुलिस इस मामले में मुख्य आरोपितों पर कार्रवाई करने से बच रही है। स्वेता पाठक का कहना है कि मेरी बहन की निर्मम तरीके से हत्या की गई। तंत्र-मंत्र की कहानी पूरी तरह से झूठ है। असली गुनाहगार खुलेआम घूम रहे हैं। मुख्य आरोपितों की गिरफ्तारी होने तक न्याय के लिए लड़ती रहूंगी।

%d bloggers like this: