अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

एकदिवसीय पर्यावरण पंचायत में सभी जिलों के प्रतिनिधि लेंगे हिस्सा


रांची:- रांची में एक दिवसीय ‘पर्यावरण पंचायत’ का आयोजन किया जायेगा। इसमें झारखण्ड के सभी जिलों से चुने हुए प्रतिनिधि भाग लेंगे। झारखण्ड के सरकारी एवं निजी विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों, तकनीकी एवं विभिन्न संस्थानों को इसमें भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाएगा। राज्य में पर्यावरण की स्थिति, नदियों एवं अन्य जल स्रोतों पर अतिक्रमण, औद्योगिक एवं नगरीय प्रदूषण आदि विषय पर पर्यावरण पंचायत में चर्चा होगी और एक कार्य योजना तैयार की जायेगी। कोरोना काल में लगे प्रतिबंध की शिथिलता के बाद यह बड़ा आयोजन किया जा रहा है। आयोजन मंडल में स्वयंसेवी संस्था- युगान्तर भारती, नेचर फाउंडेशन, दामोदर बचाओ आन्दोलन, स्वर्णरेखा प्रदूषण मुक्ति अभियान, सारण्डा बचाओ एवं अन्य सहमनी संगठन शामिल है।
पर्यावरण पंचायत के संरक्षक सरयू राय ने एक दिवसीय पर्यावरण पंचायत में कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए निम्नांकित व्यक्तियों की समिति गठित करने की घोषणा की है।
राँची विश्वविद्यालय के प्राध्यापक, डॉ० ज्योति प्रकाश को विषय समिति का संयोजक बनाया गया है। युगान्तर भारती के सचिव, आशीष शीतल को स्वागत समिति का संयोजक, उसके कार्यकारी अध्यक्ष, अंशुल शरण को तैयारी समिति का संयोजक बनाया गया है। नेचर फाउंडेशन के ट्रस्टी श्री निरंजन कुमार सिंह को आयोजन के वित्त समिति का संयोजक मनोनीत किया गया है। संयोजक मंडल के ये सभी मिलकर अन्य समितियाँ गठित करेंगे।
पर्यावरण पंचायत में झारखण्ड के सभी चौबीस जिलों में पर्यावरण की वर्तमान स्थिति के बारे में जमीनी सूचनायें प्रस्तुत किये जायेंगे। मार्गदर्शन के लिए ख्याति प्राप्त पर्यावरणविद्, तकनीकी विशेषज्ञ तथा विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों के विद्वतजन उपस्थित रहेंगे। ‘‘कोरोना का पर्यावरणीय प्रभाव, पर्यावरण संकट में भ्रष्टाचार की भूमिका तथा स्वास्थ्य एवं शिक्षा की वर्तमान स्थिति’’ सम्मेलन में चर्चा के ज्वलंत विषय होंगे।

%d bloggers like this: