अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दरभंगा पार्सल विस्फोट मामले में अभियुक्तों की रिमांड बढ़ी

पटना:- बिहार के बहुचर्चित दरभंगा पार्सल बम विस्फोट मामले में पटना स्थित राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत ने गिरफ्तार चार अभियुक्तों की न्यायिक हिरासत अवधि 23 जुलाई तक के लिए बढ़ा दी है। साथ ही दो अभियुक्त को आठ दिन की और पुलिस रिमांड पर पूछताछ के लिए एनआईए को सौंपे जाने का भी आदेश दिया। एनआईए ने पुलिस रिमांड पर पूछताछ के बाद आज मामले के तीन अभियुक्त मोहम्मद इमरान खान, नासिर खान और मोहम्मद कफील को विशेष न्यायाधीश गुरविंदर सिंह मल्होत्रा के समक्ष पेश किया। साथ ही मामले में गिरफ्तार चौथे अभियुक्त हाजी मोहम्मद सलीम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये अदालत में पेश किया गया। अदालत में पेश करने के साथ ही एनआईए ने सभी अभियुक्तों की न्यायिक हिरासत अवधि बढ़ाए जाने की प्रार्थना के साथ मामले के दो अभियुक्त नासिर खान और मो. इमरान खान को आगे और पूछताछ के लिए आठ दिन की पुलिस रिमांड पर दिये जाने की प्रार्थना की थी। एनआईए की ओर से विशेष लोक अभियोजक मनोज कुमार ने अदालत को बताया कि अभियुक्तों से पूछताछ में अहम खुलासे हुए हैं और आगे इनसे पूछताछ की आवश्यकता है। सुनवाई के बाद अदालत ने चारो अभियुक्तों की न्यायिक हिरासत अवधि 23 जुलाई 2021 तक बढ़ा दी जबकि अभियुक्त नासिर खान और मो. इमरान खान को आगे की पूछताछ के लिए आठ दिन के लिए और पुलिस रिमांड पर एनआईए को सौंपे जाने का आदेश दिया।
एनआईए 02 जुलाई 2021 से मो. इमरान खान और नासिर खान को तथा 03 जुलाई से मो. कफील को पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही थी। गौरतलब है कि 17 जून 2021 को सिकंदराबाद-दरभंगा एक्सप्रेस ट्रेन से आए कपड़ों के पार्सल में दरभंगा स्टेशन पर उस समय विस्फोट हो गया जब पार्सल वैन से सामान रेलवे गोदाम में पहुंचाए जा रहे थे। मामले की जांच विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत समस्तीपुर रेल और स्थानीय पुलिस कर रही थी। मामले में विदेशी आतंकवादी संगठन का हाथ होने का संकेत मिलने के बाद जांच की जिम्मेवारी एनआईए को सौंप दी गई थी। जांच हाथ में लेने के बाद एनआईए ने सिकंदराबाद से नासिर और इमरान को गिरफ्तार किया था जबकि कफील और हाजी सलीम को उत्तर प्रदेश के शामली जिले के कैराना गांव से गिरफ्तार किया था।

%d bloggers like this: