January 25, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोरोना मरीजों के लिए बेड की कमी हुई दूर एसिम्प्टोमैटिक संक्रमित मरीजों के लिए रांची में 313 बेड अतिरिक्त बेड की व्यवस्था

राँची :- झारखंड में कोरोना संक्रमित नये मरीजों की संख्या में निरंतर हो रही बढ़ोत्तरी के कारण रांची समेत कई जिलों में कोविड-19 आईसोलेशन बेड की कमी हो गयी है। रांची जिला प्रशासन की ओर से राजधानी रांची में कोरोना मरीजों के लिए 313 अतिरिक्त बेड की व्यवस्था की गयी है।
रांची जिला प्रशासन द्वारा एसिम्प्टोमैटिक संक्रमित मरीजों के लिए चार नए भवनों को कोविड केयर सेंटर के रूप में तैयार कर लिया गया है। जिससे कि आने वाले दिनों में मरीजों की संख्यां में इज़ाफ़ा होने की स्थिति से आसानी से निपटा जा सके, साथ ही किसी को भी बेड के आभाव में इधर-उधर न भटकना पड़े।
इन भवनों को बनाया गया कोविड केयर सेंटर
फौरी तौर पर जिन भवनों को कोविड केयर सेंटर के रूप में विकसित किया गया है, उनमें सर्ड, पारस एच ई सी, टाना भगत अथितिशाला एवं रिसालदार अर्बन सीएचसी को कोविड केयर सेंटर में बदला गया है। सर्ड में 93, पारस एचईसी में 50, रिसालदार अर्बन सीएचसी में 90 और टाना भगत अतिथिशाला में 80 अतिरिक्त बेड की व्यवस्था की गयी है।
इधर,एचईसी पारस हॉस्पिटल में आपात स्थितियों से निपटने से के लिए आईसीयू बेड की भी सुविधा उपलब्ध है। जहां जरूरत पड़ने पर संक्रमित मरीज को बेहतर इलाज के लिए किसी और अस्पताल में ले जाने की आवश्यकता नहीं होगी।
रांची के उपायुक्त छवि रंजन ने बतताया कि रांची जिले में कोविड 19 से संक्रमित ज्यादातर मरीज एसिम्प्टोमैटिक श्रेणी में आते हैं। इसी के मद्देनजर, रांची में चार नए कोविड केयर सेंटर तैयार कर लिए गए हैं, जहां कोविड 19 से संक्रमित मरीजों की चिकित्सकों की उपस्थिति में देख-रेख की जा सकेगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: