अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

नगर-निगम, विधानसभा और लोकसभा का चुनाव जीतने के साथ ही केंद्रीय मंत्री रह चुके है रमेश बैस

बीजेपी के एक साधारण कार्यकर्त्ता के रूप में निगम से लेकर केंद्र सरकार में कई दायित्वों को संभाल चुके बैस को संसदीय कार्यां का है लंबा अनुभव

रांची:- त्रिपुरा के राज्यपाल और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में केंद्रीय मंत्री रह चुके रमेश बैस को झारखंड का नया राज्यपाल बनाया गया है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एक साधारण कार्यकर्त्ता की हैसियत से रायपुर नगर निगम, मध्य प्रदेश विधानसभा और फिर लोकसभा चुनाव जीत चुके रमेश बैस फिलहाल त्रिपुरा के राज्यपाल के रूप में कार्यभार संभाल रहे थे।
रमेश बैस छत्तीसगढ़ के रायपुर निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और अपने राजनीतिक जीवन के प्रारंभ से ही भारतीय जनता पार्टी से जुड़े रहे। सामाजिक जीवन की शुरुआत और राजनीति में आने में आने के बाद सबसे पहले रमेश बैस 1978 में रायपुर नगर निगम के लिए चुने गए थे । इसके बाद उनका राजनीतिक सफर लगातार आगे बढ़ता रहा। 1980 से 1984 तक वे मध्यप्रदेश विधान सभा के सदस्य भी थे। 1989 में एकीकृत मध्य प्रदेश (अब छत्तीसगढ़) के रायपुर संसदीय सीट से से 9वीं लोक सभा के लिए चुने गए थे । इसके बाद 11वीं, 12वीं, 13वीं, 14वीं, 15वीं और 16वीं लोक सभा में फिर से निर्वाचित हुए थे। उन्होंने भारत सरकार में केंद्रीय मंत्री के रूप में भी कार्य किया। रमेश बैस ने कांग्रेस के कद्दावर नेता विद्याचरण शुक्ल और श्यामाचरण शुक्ल जैसे नेताओं को हराया है। रमेश बैस कभी चुनाव नहीं हारे. लगातार चुनाव जीतने के बाद भी 2019 में उन्हें टिकट नहीं दिया गया। इसके बाद माना जा रहा था कि उन्हें साइडलाइन कर दिया गया है। लेकिन चुनाव के बाद उन्हें त्रिपुरा का राज्यपाल बनाया गया। रमेश बैस लाल कृष्ण आडवाणी के काफी करीबी माने जाते हैं। वे केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज के भी काफी करीबी थे। सुषमा स्वराज से उनके पारिवार संबंध रहे. सुषमा स्वराज रमेश बैस को अपना भाई मानती थीं।
2अगस्त 1947 को जन्मे रमेश बैच वाजपेयी सरकार में केंद्रीय राज्यमंत्री के रूप में भी काम कर चुके है। जबकि जुलाई 2019 में उन्हें त्रिपुरा का राज्यपाल बनाया गया था। इस तरह से निगम से लेकर केंद्र सरकार में कई दायित्वों को संभाल चुके रमेश बैस को संसदीय कार्यां का लंबा अनुभव है।

झारखंड के अब तक के राज्यपाल-

राज्यपाल कार्यकाल – प्रभात कुमार – 15 नवंबर 2000-3 फरवरी 2002 विनोदचंद्र पांडे – 4 फरवरी 2002-14 जुलाई 2002 एम रमा जोइस – 15 जुलाई 2002-11 जून 2003 वेद मारवाह -12 जून 2003-9 दिसंबर 2004 सैय्यद सिब्ते रजी – 10 दिसंबर 2004-25 जुलाई 2009 के शंकर नारायणन -26 जुलाई 2009-21 जनवरी 2010 एम ओ हरान फारुक मारिकार – 22 जनवरी 2010-3 सितंबर 2011 सईद अहमद – 4 सितंबर 2011-18 मई 2015 द्रौपदी मुर्मू – 18 मई 2015-6 जुलाई 2021 रमेश बैस – वर्तमान

%d bloggers like this: