अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रोहतक जेल में बंद राम रहीम ने मांगी इमरजेंसी पैरोल

– आवेदन में मां की बीमारी का दिया हवाला

– जेल प्रबंधन ने पुलिस से मांगी रिपोर्ट

रोहतक:- साध्वी यौन शोषण तथा पत्रकार हत्याकांड में रोहतक जेल में सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम ने जेल से बाहर आने के लिए इमरजेंसी पैरोल की मांग की है। राम रहीम ने अपनी मां की बीमारी का हवाला देकर इमरजेंसी पैरोल की मांग की है।
डेरा मुखी साध्वी यौन शोषण के मामले में 25 अगस्त 2017 से रोहतक की सुनारियां जेल में बंद है। दो दिन पहले राम रहीम का स्वास्थ्य खराब होने के चलते कड़ी सुरक्षा के बीच उसे पीजीआई रोहतक में उपचार के लिए लाया गया था। यहां करीब 24 घंटे रखने के बाद उसे वापस जेल भेज दिया गया।
अब राम रहीम ने अपनी मां के बीमार होने का हवाला देते हुए ‘इमरजेंसी पैरोल’ की मांग की है। यह दूसरा मौका है जब राम रहीम ने पैरोल की मांग की है। पिछले साल भी राम रहीम को एक दिन की पैरोल दी गई थी। उसे कड़ी सुरक्षा और बहुत ही गोपनीय तरीके से गुरुग्राम के मेदांमा मेडिसटी में ले जाया गया था। इससे पहले एक बार राम रहीम की अर्जी को रद्द कर दिया गया था। अब कोरोना काल के बीच राम रहीम ने अपनी बीमार मां का हवाला देते हुए जेल अधीक्षक को आवेदन देकर पैरोल मांगी है।
रोहतक जेल के अधीक्षक सुनील सांगवान के अनुसार गुरमीत राम रहीम का आवेदन उन्हें मिल चुका है। जिसे रोहतक व सिरसा पुलिस को भेज दिया गया है। पुलिस तथा सिविल प्रशासन के अधिकारी इस आवेदन के संबंध में अपनी रिपोर्ट देंगे। पुलिस की एनओसी मिलने के बाद जेल प्रशासन द्वारा राम रहीम को पैरोल दे दी जाएगी।

%d bloggers like this: