अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

राजस्‍थान की शिवानी बनीं पहली महिला उत्खनन इंजीनियर, रजरप्‍पा परियोजना में दे रहीं योगदान


रांची:- सेंट्रल कोल्‍फील्‍ड्स लिमिटेड ( सीसीएल) की चूरी भूमिगत खदान में कुछ दिन पूर्व आकांक्षा कुमारी ने माइनिंग इंजीनियर के रूप में योगदान देकर सीसीएल सहित पूरे कोयला उद्योग में इतिहास रचा था.वहीं अब देश के कोयला खनन उद्योग के इतिहास में एक नया कीर्तिमान जुड़ गया है.राजस्‍थान की रहने वाली शिवानी मीणा ने सीसीएल की रजरप्पा परियोजना की मेकेनाइज्‍ड खुली खदान में अपना योगदान देना शुरू किया है.शिवानी उत्खनन कैडर की पहली महिला इंजीनियर हैं, जो खुली खदान में कार्य करेंगी. उन्‍हें भारी मशीनों (एचईएमएम) के रख-रखाव एवं मरम्‍मत की जिम्‍मेदारी दी गई है.रजरप्‍पा क्षेत्र सीसीएल की एक महत्‍वाकांक्षी परियोजना है.

जोधपुर की छात्रा है शिवानी

शिवानी शुरू से ही एक मेधावी छात्रा रही है.उन्होंने आइआइटी जोधपुर से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग किया है. बताया कि बतौर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर उन्हें नौकरी के कई अच्छे अवसर मिल रहे थे.मगर उन्होंने कोल इंडिया में काम करने को अपनी प्राथमिकता में शामिल किया.

%d bloggers like this: