अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मालगाड़ी के 18 डिब्बे बेपटरी होने से बाधित हुआ रेलमार्ग 16 घंटे बाद हुआ बहाल


जगदलपुर:- छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के कमलुर-भांसी स्टेशन के मध्य शुक्रवार को लौह अयस्क से लदी मालगाड़ी के 18 डिब्बे बेपटरी होने से बाधित हुए रेलमार्ग पर 16 घंटे बाद रेल यातायात बहाल हो गया है।
रेलवे सूत्रों ने बताया कि शुक्रवार को दंतेवाड़ा जिले में कमलुर-भांसी स्टेशन के बीच लौह अयस्क से लदी मालगाड़ी के 18 डिब्बे बेपटरी हो जाने से यह मार्ग बाधित हो गया था। इस रेल मार्ग को हैवी मशीनों और सैकड़ों मजदूरों के अथक प्रयास के बाद लगभग 16 घंटे बाद कल शाम को बहाल कर दिया गया। इस मार्ग पर पहली एमटी मालगाड़ी कमलुर स्टेशन से किरन्दुल के लिए रवाना हुई।
बताया गया कि अतिसंवेदनशील नक्सल प्रभावित क्षेत्र में सुदूर वनाच्छदित इलाके में रेल डिरेल की घटना हुई थी। इसके बाद विशाखापटनम रेलमंडल के डीआरएम अनुप कुमार सत्पथी के मार्गदर्शन में भारी मशीनोें, तकनीकी अधिकारियों, कर्मचारियों, सैकड़ों मजदूरों, आरपीएफ, सीआरपीएफ दंतेवाड़ा जिला पुलिस, डीआरजी की उपस्थिति में सुधार कार्य पूरा किया गया।

%d bloggers like this: