अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

निजी लैब की होगी रेंडम जांच, बैकलॉग क्लियर करने और समय पर जांच रिपोर्ट देने का निर्देश

क्षमता से कम जांच करने पर लैब निजी लैब्स को नोटिस

रांची:- रांची के उपायुक्त छवि रंजन की अध्यक्षता में निजी लैब संचालकों के साथ बैठक आयोजित की गई। समाहरणालय स्थित उपायुक्त सभागार में आयोजित बैठक में उप विकास आयुक्त रांची, अनुमंडल पदाधिकारी रांची सदर, उप समाहर्ता स्थापना रांची, विभिन्न निजी लैब के संचालक-प्रतिनिधि एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

क्षमता के अनुसार टेस्टिंग करने का निर्देश
बैठक में सभी लैब संचालकों को अपनी-अपनी क्षमता के अनुसार कोविड-19 जांच करने का निर्देश दिया गया। उपायुक्त छवि रंजन ने कहा कि सभी निजी लैब जांच की संख्या को बढ़ाएं और अपनी क्षमता के अनुसार सैंपल की जांच करें।

क्षमता के अनुसार जांच नहीं करने पर नोटिस
बैठक के दौरान उपायुक्त द्वारा सभी निजी लैब संचालकों से लैब की कैपेसिटी और प्रतिदिन की जाने वाली जांच की जानकारी ली गई। क्षमता से बहुत कम जांच करनेवाले लैब को उपायुक्त ने नोटिस करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारी को दिया। एसआरएल लैब, एस शरण लैब और मेडिका को नोटिस करने का निर्देश उपायुक्त द्वारा दिया गया। उपायुक्त ने लैब द्वारा जांच की संख्या शून्य दिखाने पर संबंधित पदाधिकारी को आवश्यक जांच करने का निर्देश दिया।
बैठक के दौरान उपायुक्त ने सभी निजी लैब संचालकों को बैकलॉग सैंपल जांच क्लियर करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा की रिपोर्ट देने में देरी ना करें, समय पर जिला प्रशासन के संबंधित सेल और व्यक्ति को रिपोर्ट उपलब्ध कराएं।
क्षमता से कम जांच और जांच के कार्य में लापरवाही बरतने पर बैठक में निजी लैब संचालकों को उपायुक्त द्वारा जमकर फटकार लगाई गई। उपायुक्त ने कहा कि आम लोगों को किसी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए। निजी लैब्स की मजिस्ट्रेट द्वारा रैंडम जांच की जाएगी। लैब बंद होने और सैंपल जांच नहीं करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
उपायुक्त श्री छवि रंजन ने निजी लैब संचालकों से कहा कि जांच कराने आने वाले लोगों को किसी तरह की समस्या ना हो इसके लिए लैब में इंक्वायरी काउंटर बनाएं ताकि लोग जांच से संबंधित जानकारी आसानी से हासिल कर सकें। उन्होंने कहा कि एसआरएफ आईडी से अगर कोई जांच से
संबंधित जानकारी पाना चाहता है तो इसकी भी व्यवस्था काउंटर पर होनी चाहिए।

%d bloggers like this: