अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

एसएनएमएमसीएच में इलाज कराने गया हत्या का आरोपी कैदी फरार


धनबाद:- एसएनएमएमसीएच में इलाज कराने गया एक बंदी पुलिस जवानों को चकमा देकर फरार हो गया। खून की उल्टी होने की शिकायत पर भौंरा के बिट्टू तुरी को शनिवार को दोपहर तीन बजे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जानकारी के अनुसार शाम करीब साढ़े सात बजे शौच के लिए वह शौचालय गया। इसके बाद वह शौचालय की खिड़की का रॉड तोड़ कर फरार हो गया। बंदी की सुरक्षा में लगे तीन जवानों को उसके भागने की खबर मिली। तो उनके होश उड़ा गये। आनन-फानन में सरायढेला पुलिस और वरीय पुलिस अधिकारियों को मामले की सूचना दी गयी। बताया जा रहा है कि बिट्टू तुरी प्रथम तल पर स्थित बंदी वार्ड में भर्ती था। उसे कई दिनों से खून की उल्टियां हो रही थीं। कुछ दिन पूर्व भी वह एसएनएमएमसीएच में उपचार कराने आया था। दोबारा उसे भर्ती कराया गया तो वह तीन-तीन सुरक्षा जवानों को चकमा देकर भाग गया। बंदी की सुरक्षा की जिम्मेवारी पुलिस लाइन के हवलदार और जवान रोहित किस्कू, विनोद सोरेन और शिव शंकर पासवान पर थी। विनोद सोरेन उसे शौच कराने ले गया था। घटना की सूचना मिलते ही सार्जेंट मेंजर अरुण किशन पुलिस टीम के साथ पहुंचे। अस्पताल में चारों तरफ उसकी खोजबीन हुई। देर रात तक जब वह नहीं मिला तो सरायढेला थाना में उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गयी। इधर, ड्यूटी पर तैनात जवानों के खिलाफ एसएसपी को रिपोर्ट सौंपी गई। डीएवी स्कूल के नौवीं के छात्र जामाडोबा शालीमार निवासी मोनू तूरी की हत्या में धनबाद सत्र न्यायालय से बिट्टू तूरी को 29 जुलाई 2016 को सजा हुई थी।

%d bloggers like this: