अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बीच के ओवरों में दबाव बना जीत-हार का अंतर : विराट कोहली


शारजाह:- रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली ने यहां सोमवार को आईपीएल 2021 के एलिमिनेटर मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स से हार के बाद कहा कि उन्हें लगता है कि बीच के ओवरों में, जहां कोलकाता के स्पिनरों का दबदबा रहा, वहीं जीत और हार का अंतर था। विराट ने मैच के बाद कहा, “ उनके गेंदबाज अच्छी जगह पर गेंदबाजी करते रहे और विकेट लेते रहे। हमने शानदार शुरुआत की और यहां सारी बात अच्छी गेंदबाजी के बारे में थी न कि खराब बल्लेबाजी के बारे में। वे पूरी तरह से मैच जीतने और अगले दौर में पहुंचने के हकदार हैं। गेंद से अंत तक लड़ाई लड़ना हमारी टीम की पहचान रही है। उस 22 रन के बड़े ओवर की वजह से हमने बीच में मौके गंवा दिए। हमने आखिरी ओवर तक संघर्ष किया और इसे एक शानदार मैच बनाया। हमें बल्लेबाजी करते हुए 15 रन कम बनाने और गेंद के साथ कुछ बड़े ओवर देने की कीमत चुकानी पड़ी। ”
आरसीबी के कप्तान ने कहा, “ सुनील नारायण हमेशा से ही एक क्वालिटी गेंदबाज रहे हैं और आज एक बार फिर उन्होंने यह साबित किया। शाकिब अल हसन, वरुण चक्रवर्ती और उन्होंने दबाव बनाया और हमारे बल्लेबाजों को बीच के ओवरों में रन नहीं बनाने दिए। ”
विराट ने आरसीबी की कप्तानी छोड़ने को लेकर कहा, “ मैंने यहां एक माहौल बनाने की पूरी कोशिश की है, जहां युवा आ सकते हैं तथा आजादी और भरोसे के साथ खेल सकते हैं। यही मैंने भारतीय टीम में भी किया है। मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया है। मुझे नहीं पता कि प्रतिक्रिया कैसी रही है, लेकिन मैंने हर बार इस फ्रेंचाइजी को 120 प्रतिशत दिया है और अब मैं यह एक खिलाड़ी के रूप में करूंगा। यह अगले तीन वर्षों के लिए उन लोगों के साथ फिर से संगठित होने और पुनर्गठित होने का सही समय है जो इसे आगे बढ़ाएंगे। ” उन्होंने आरसीबी के साथ रहने पर कहा, “ हां जरूर, मैं खुद को कहीं और खेलते हुए नहीं देखता। मेरे लिए वफादारी सांसारिक सुखों से ज्यादा मायने रखती है। मैं आईपीएल में खेलने के आखिरी दिन तक आरसीबी में रहूंगा। ”

%d bloggers like this: