अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दद्दा की 116वीं जयंती धूमधाम से मनाने को झांसी में तैयारियां जोरों पर


झांसी:- देश में खेलों के सबसे बडे पुरस्कार का नाम हॉकी के जादूगर मेजर ध्यान के नाम पर रखे जाने के केंद्र सरकार के फैसले के बाद द्ददा की कर्मभूमि झांसी में लोगों के बीच गजब का उत्साह है और राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। दद्दा की जयंती राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनायी जाती है। इस अवसर पर मेजर ध्यानचंद के बेटे और जाने माने हॉकी खिलाड़ी व ओलंपियन अशोक ध्यानचंद ने शनिवार को बताया कि पिताजी के सम्मान में केंद्र सरकार का यह फैसला खिलाडियों का बहुत बड़ा सम्मान है, इसके लिए बहुत आभार । सभी सरकारों ने ध्यानचंद जी के खेलों में योगदान को सराहा है। उन्होंने बताया कि यहां जिस हीरोज ग्राउंड पर कभी पिता खुद प्रैक्टिस किया करते थे उसी ग्राउंड पर बने हीरोज क्लब का यह 100 स्थापना वर्ष भी है। वर्ष 9121 में स्थापित इस क्लब ने कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों को जन्म दिया जो अब भी इस क्लब का हिस्सा हैं।
क्लब की स्वर्णजयंती पर “ मेजर ध्यानचंद खेल प्रेरक सम्मान ” की शुरूआत होने जा रही है। इस बार राष्ट्रीय खेल दिवस पर यह पहला पुरस्कार दिया जायेगा। इसके अलावा हॉकी में पूर्व ओलंपियन और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों का सीनियर रेलवे इंस्टीट्यूट में सम्मान किया जायेगा। इस अवसर पर महरानी लक्ष्मीबाई के किले से एक रैली का आयोजन किया जायेगा जो ईलाइट चौराहे ,ध्यानचंद स्टेडियम होते हुए हीरोज ग्राउंड पर पहुंचेगी। इस बीच “ रन फार दादा ध्यानचंद ’’ का आयोजन किया जायेगा।
हीरोज ग्राउंड पर मेजर ध्यानचंद की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया जायेगा और इसके बाद पूर्व ओलंपियंस और महिला हॉकी खिलाड़ियों के बीच प्रदर्शन मैच कराया जायेगा। यहां पर पूर्व खिलाड़ियों का सम्मान किया जायेगा। इसके अलावा मध्यप्रदेश एकेडमी महिला हॉकी टीम और झांसी महिला हॉकी टीम के बीच भी एक मैच का आयोजन किया जायेगाक्षेत्रीय खेल अधिकारी (आरएसओ) सुरेश बेानकर ने बताया कि राष्ट्रीय खेल दिवस पर मेजर ध्यानचंद स्टेडियम की एस्ट्रोटर्फ पर सेना हॉकी टीम और झांसी हॉकी टीम के बीच मैच का आयोजन किया जायेगा।
इस कार्यक्रम में केंद्रीय राज्यमंत्री भानु प्रसाद वर्मा के साथ उत्तर प्रदेश प्रदेश के खेलकूद, युवा कल्याण एवं पंचायत राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेंद्र तिवारी और झांसी –ललितपुर सांसद अनुराग शर्मा आदि शिरकत करेंगे। इस मैत्री मैच के अलावा खेल से जुड़ी बडी शख्सियतों को सम्मानित भी किया जायेगा।
इसके अलावा खेल दिवस के अवसर पर स्थानीय खेल संस्थाएं और भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति मेजर ध्यानचंद के नाम पर देश के सबसे बड़े खेल पुरस्कार को नाम रखे जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देने के लिए एक “ धन्यवाद मोदी पदयात्रा” का आयोजन सुबह के समय करेंगे। कार्यसमिति के सदस्य प्रदीप सरावगी ने बताया कि प्रधानमंत्री ने खेल के सबसे बड़े पुरस्कार का नाम हॉकी के जादूगर के नाम पर रखकर खिलाडियों का गौरव बढ़ाया है और अब हमारी जिम्मेदारी है कि हम उनका धन्यवाद दें । इसी के तहत जनता और खिलाड़ियों के साथ मिलकर पदयात्रा निकाली जायेगी।

%d bloggers like this: