किशनगंज :- सखुआडाली पंचायत के धुलाबाड़ी स्थित मो. अनवारुल के चाय बागान में आदिवासियों के द्वारा 29 अप्रैल को ही कब्जा कर लिया गया था। अवैध कब्जे को हटाने को लेकर एक महीने से अधिक समय तक चले इस प्रकरण में बुधवार सुबह एक नया मोड़ आया। ईद के एक दिन पूर्व मंगलवार की रात अवैध कब्जा जमाए जमीन के बगल में स्थित ईदगाह में भी आदिवासियों द्वारा अवैध कब्जा करने के प्रयास किया। जिसकी भनक लगते ही बुधवार सुबह को ईद की नमाज अदा करने के पूर्व ही क्षेत्र में काफी तनाव फैल गया। आखिरकार जिला प्रशासन सख्ती से स्थिति को निपटते हुए घटनास्थल में माहौल को शांत कराने में सफलता हासिल की। साथ ही चाय बागान में एक महीने से अधिक समय से चले आ रहे अवैध कब्जा को भी हटा दिया है। घटना स्थल पर आदिवासी परिवार द्वारा बनाए गए झोपड़ियों को उजाड़ दिया गया। इसके अलावा इस मामले में नामजद आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया।

इस तरह जिला प्रशासन के द्वारा सख्ती दिखाए जाने के बाद महज घंटे भर में चाय बागान खाली करा लिया गया। घटना स्थल से आदिवासियों को सुरक्षित निकालने के बाद नगर सहित क्षेत्र में शांति व सुरक्षा व्यवस्था पर अपनी पैनी नजर रखने हेतु पुलिस उप महानिरीक्षक राजेश त्रिपाठी, डीएम हिमांशु शर्मा व एसपी कुमार आशीष ठाकुरगंज थाना में शाम तक कैंप किए हुए थे। इनके द्वारा पल-पल स्थिति के मॉनिटरिग की जा रही थी। इस दौरान एसपी कुमार आशीष ने बताया कि घटनास्थल पर दंडाधिकारी के साथ पुलिस फोर्स की तैनाती कर दी गई है। स्थिति नियंत्रण में है। पुलिस अधिकारी नगर में भी शांति व्यवस्था के लिए लगातार गश्ती कर रहे हैं। वहीं एडीएम किशनगंज के अलावा बीडीओ श्रीराम पासवान, सीओ उदय कृष्ण यादव घटनास्थल पर कैंप कर रहे हैं।
इस दौरान सर्किल पुलिस इंस्पेक्टर श्याम किशोर यादव, राजेश कुमार पासवान, सार्जेंट मेजर रंजन कुमार, ठाकुरगंज थानाध्यक्ष आसिफ बेग, गलगलिया थानाध्यक्ष तरुण कुमार तरुणेश, कुर्लीकोट थानाध्यक्ष संजय कुमार, सुखानी थानाध्यक्ष राजेश कुमार, पौआखाली थानाध्यक्ष वेदानंद सिंह, जियापोखर थानाध्यक्ष शिव कुमार प्रसाद, बहादुरगंज थानाध्यक्ष सुमन कुमार सिंह, दिघलबैंक थानाध्यक्ष पुलिस दल बल के साथ तैनात थे।
बताते चलें कि ठाकुरगंज थाना क्षेत्र के बुधवार को चाय बागान प्रकरण में उत्पन्न तनाव को दूर करने व क्षेत्र में शांति बहाल करने में प्रखंड व नगर पंचायत के जन प्रतिनिधियों ने भी अहम भूमिका निभाई तथा प्रशासन को भरपूर सहयोग किया। क्षेत्र में अमन चैन स्थापित करने विधायक नौशाद आलम, नपं अध्यक्ष देवकी अग्रवाल, मुस्ताक आलम, अहमद हुसैन उर्फ लल्लू, अहमद हुसैन, मो. रहीमुद्दीन उर्फ हैबर बाबा, उपप्रमुख गुलाम मोहिउद्दीन, पंसस शाहनवाज उर्फ कल्लू आदि ने ने भी अपनी सक्रिय भूमिका निभाई।

Leave a Reply

%d bloggers like this: