अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दिल्ली में कोरोना केस कम होने का हवाला देकर सीएम केजरीवाल ने LG से मांगी छठ पूजा की इजाजत

दिल्ली में छठ पूजा आयोजन को लेकर सियासत तेज

दिल्ली:- देश की राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उप राज्यपाल अनिल बैजल को चिट्ठी लिख छठ पूजा समारोह की अनुमति देने का आग्रह किया है. केजरीवाल ने कहा कि मैंने माननीय एलजी से दिल्ली में छठ पूजा समारोह की अनुमति देने का आग्रह किया है. कोरोना अब नियंत्रण में है और कई अन्य राज्यों ने इसकी अनुमति दी है.

वहीं, एक अन्य मामले में दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी(DPCC) ने आदेश जारी कर कहा है कि दिल्ली में किसी भी सार्वजनिक जगह पर दुर्गा मूर्ति विसर्जन की अनुमति नहीं होगी. लोगों को घरों में ही बाल्टी या कंटेनर में विसर्जन करना होगा. दुर्गा पूजा उत्सव से पहले दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (DPCC) ने बुधवार को किसी भी जलाशय में मूर्ति विसर्जन पर रोक लगा दी और लोगों से कहा कि वे अपने घरों में ही बाल्टी या कंटेनर में मूर्ति विसर्जन करें. समिति ने कहा कि इसके चलते नदियों और झीलों में होने वाला प्रदूषण चिंता का विषय है.


महानवमी पर रामनवमी की बधाई! अखिलेश के ट्वीट पर बीजेपी ने ली चुटकी, कहा-जनता को मत पहनाइए टोपी

दरअसल, अखिलेश यादव ने अपने ट्वीट में महानवमी पर लोगों को रामनवमी की बधाई दे दी। इस ट्वीट में उन्‍होंने लिखा था- ‘आपको और आपके परिवार को रामनवमी की अनंत मंगलकामनाएं!’। हालांकि थोड़ी देर बाद ही उन्‍होंने इस ट्वीट को हटाकर नया ट्वीट किया-‘आपको और आपके परिवार को महानवमी की अनंत मंगलकामनाएं!’

लेकिन तब तक भाजपा को वार करने का मौका मिल चुका था। उत्‍तर प्रदेश भाजपा की ओर से अधिकारिक ट्विटर हैंडल पर अखिलेश के ट्वीट को टैग करते हुए लिखा गया-‘जिस अखिलेश यादव को यह तक नहीं पता कि रामनवमी और महानवमी में क्या अंतर है, वो ‘राम’ और ‘परशुराम’ की बात करते हैं… जनता को मत पहनाइए ‘टोपी’, वह आप पर ज्यादा अच्छी लगती है…’।


अब बॉर्डर के अंदर भी कार्रवाई कर सकेगी BSF, सरकार ने दिया बड़ा अधिकार

सरकार ने अब बीएसएफ को असम, पश्चिम बंगाल और पंजाब में BSF को सर्च और अरेस्ट करने का अधिकार दे दिया गया है। वहीं विपक्ष इसे केंद्र की राज्यों में घुसपैठ की कोशिश बता रहा है।

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने सीमा सुरक्षा बल यानि BSF के अधिकारों में इजाफा कर दिया है। अब बीएसएफ को कुछ राज्यों में सीमा के अंदर भी कार्रवाई करने का अधिकार होगा। गृह मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक अब असम, पश्चिम बंगाल और पंजाब में BSF को सर्च और अरेस्ट करने का अधिकार दे दिया गया है।

इन राज्यों में बढ़ी बीएसएफ की जिम्मेदारी

अब तीनों राज्यों में बांग्लादेश और पाकिस्तान बॉर्डर से 50 किलोमीटर देश के राज्यों में BSF को कार्रवाई करने का अधिकार होगा। इसके साथ ही BSF नागालैंड, मिजोरम, त्रिपुरा, मणिपुर और लद्दाख में भी सर्च ऑपरेशन चला सकती है और संदिग्धों को अरेस्ट कर सकेगी। मतलब साफ है कि अब बीएसएफ भी पुलिस की तर्ज पर कार्रवाई करेगी।

%d bloggers like this: