अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मुख्तार अंसारी को लाने के लिए दस गाड़ियों के साथ पुलिस टीम रवाना

बांदा:- पंजाब के रोपड़ जेल में बंद बाहुबली मुख्तार को लाने के लिए बांदा से पुलिस की टीमें रवाना हो गई है। इस टीम में दो पुलिस के क्षेत्राधिकारी, दो वरिष्ठ उपनिरीक्षक, 20 पुलिसकर्मी और दो डॉक्टरों की टीम भी शामिल है। एक पलाटून पीएसी भी भेजी गई है। इनमें प्रिजन वैन भी शामिल है, जिसमें मुख्तार को बांदा तक लाया जाएगा।
कड़ी सुरक्षा के बीच मुख्तार को पंजाब से यूपी में लाने के लिए पुलिस महानिरीक्षक चित्रकूट धाम मंडल के सत्यनारायण ने रविवार की रात को पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की थी। पूरी तैयारी करने के बाद आज सुबह पुलिस टीम रवाना हो गई है।
आईजी के मुताबिक, जेल में भी सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गई है। बांदा जेल अधीक्षक की मांग पर एक डॉक्टर एक फार्मासिस्ट को मंडल कारागार में सम्बद्ध कर दिया गया है। जिला अस्पताल में तीन सदस्य इमरजेंसी मेडिकल टीम भी गठित हुई है, इनमें एक सर्जन, एक फिजीशियन और एक हड्डी रोग विशेषज्ञ को शामिल किया गया है।
जेल अधीक्षक का कहना है कि मंडल कारागार की किलाबंदी तकरीबन कर ली गई है। यहां एक कंपनी पीएसी भी तैनात है। जेल के भीतर और बाहर लगे सभी सीसीटीव कैमरे को चेक कर लिया गया है। अभी तक जेल में कितने कैदी उनके सारी सूची अपडे कर ली गई है। मुख्य प्रवेश द्वार को जंजीरों से जकड़ने के साथ ही अस्थायी सुरक्षा चौकियां बनाई गई है। मुख्तार को जब यूपी से ले जाया गया था, तब वह यहां बांदा जेल में ही निरुद्ध था। बैरक नम्बर 15 में उसका ठिकाना हो सकता है। हालांकि यह उच्चधिकारी तय करेंगे कि उसे कहा रखा जाये।
उल्लेखनीय है कि सर्वोच्च न्यायालय ने बीती 26 मार्च को पंजाब सरकार को आदेश दिया था कि गंभीर मामलों में आरोपित माफिया विधायक मुख्तार अंसारी को दो सप्ताह में उत्तर प्रदेश सरकार को सौंपा जाए। इसके बाद यह प्रक्रिया शुरु हुई है। मुख्तार अंसारी के खिलाफ दिल्ली, यूपी के जिलों के थानों में गंभीर धाराओं में 45 मुकदमें दर्ज हैं। वह पंजाब की रोपड़ जेल में एक मामले में करीब दो साल से निरुद्ध है।

%d bloggers like this: