June 13, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

लॉक डाउन में फरिश्ते बन आमजन की मदद कर रही है पुलिस

अलवर:- कोरोना महामारी के चलते लगे लॉकडाउन में पुलिसकर्मी फरिश्ते बन आमजन की मदद कर रहे हैं। पुलिसकर्मियों ने इस तरह एक्सीडेंट में रोड पर पड़े एक बच्चे व गर्मी से बेहोश होकर रोड़ पर गिरी एक महिला की जान बचाई। वहीं अलवाड़ा चौकी के कॉन्स्टेबल ने हाई टेंशन लाइन पर आत्महत्या के लिए चढ़े युवक को चढ़कर समझा बुझा कर नीचे उतारा। जिसके फ़ोटो व वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस अधिकारियों सहित आमजन द्वारा इन पुलिसकर्मियों की सराहना की जा रही है। अलवर पुलिस द्वारा अपने सोशल मीडिया पेज पर भी उन पुलिसकर्मियों की सराहना की गई है। गौरतलब है कि देश व प्रदेश सहित जिले में कोरोना की दूसरी लहर चल रही है। इस महामारी के कारण रोजाना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। जिसे रोकने के लिए एक बार फिर सरकार की ओर से लॉकडाउन जैसे सख्त कदम उठाए गए हैं। ऐसे में आमजन फिर से घर में कैद हैं और पुलिसकर्मी उन्हें बचाने के लिए सड़कों पर ड्यूटी कर अपना फर्ज निभा रहे हैं। इससे पूर्व भी कोरोना के समय में पुलिस कर्मियों द्वारा जरूरतमंद लोगों को भोजन उपलब्ध कराने सहित अन्य प्रकार के कई ऐसे कार्य किये गए थे। इन कार्यो के बाद आमजन की नजर में पुलिस की छवि भी बदली है। भिवाड़ी के तिजारा थाने में कार्यरत कांस्टेबल लोकेश शर्मा 8 मई को हाइवे से गुजर रहा था। तभी तिजारा हाईवे पर घायल अवस्था में एक छोटा बच्चा रोड पर पड़ा हुआ दिखाई दिया। कांस्टेबल लोकेश ने किसी का इंतजार किए बिना तुरंत बच्चे को अपनी बाइक पर उठाकर तिजारा अस्पताल में भर्ती करवाया और अधिकारियों को इसकी सूचना दी। इसके बाद परिजनों की तलाश की गई। परिजनों के अस्पताल आने तक कॉन्स्टेबल अस्पताल में बच्चे के पास रहा। कांस्टेबल कि इस सजगता से बच्चे की जान बच गई। कांस्टेबल के इस कार्य की तिजारा थाना अधिकारी सहित अन्य पुलिस अधिकारियों ने सराहना की। शहर के घण्टाघर पर 10 मई को एक महिला अचानक गर्मी से बेहोश होकर सड़क पर गिर गई। तभी इंसानियत का फर्ज निभाते हुए वहां ड्यूटी कर रहे ट्रैफिक पुलिस के जवान हैडकांस्टेबल हरफूल, कांस्टेबल रवि और सत्तू गुर्जर ने तुरंत महिला को उठाया। इसके बाद पास की दुकान के बाहर पट्टी पर लेटाकर पास पड़े एक गत्ते के टुकड़े से हवा की थोड़ी देर बाद महिला को होश आ गया। अलवर जिले के रामगढ़ थाने की अलावड़ा चौकी के पास 18 मई को परिजनों के डांटने से नाराज युवक हाईटेंशन लाइन के पोल पर चढ़ गया। वहां से युवक आत्महत्या की धमकी देने लगा। तभी मौके पर पहुंचे अलवाड़ा चौकी के कॉन्स्टेबल दिनेश मीना ने अपनी जान जोखिम में डालकर हाईटेंशन बिजली के पोल पर चढ़कर युवक को समझाबुझा कर नीचे उतारा।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: