May 11, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बंगाल में बोले पीएम मोदी, दीदी को नहीं लोगों के स्वास्थ्य की चिंता

कोलकाता:- पश्चिम बंगाल में शनिवार को हो रहे पांचवें चरण के मतदान और तेजी से बढ़ रही कोरोना महामारी के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी छठे चरण के चुनाव प्रचार के लिए आसनसोल पहुंचे। यहां उनकी रैली में भारी भीड़ उमड़ी है। प्रधानमंत्री मोदी ने राज्य में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर सवाल खड़ा किया। उन्होंने कहा कि दीदी को लोगों के स्वास्थ्य की चिंता नहीं है। जब भी कोरोना रोकथाम की बैठक होती हैं तो दीदी उसमें नहीं जाती हैं।
प्रधानमंत्री मोदी ने बंगाल के आसनसोल को मिनी इंडिया बताते हुए कहा कि साइकिल से लेकर रेल, कागज से लेकर स्टील और एल्युमीनियम से कांच तक की यहां की फैक्टरियाें में पूरे भारत के लोग काम करने के लिए आते थे, लेकिन लोग अब यहां से पलायन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मां, माटी और मानुष की बात करने वाली दीदी ने यहां माफियाराज फैला दिया है। चार दौर का मतदान और टीएमसी खंड-खंड हो गई। बाकी चार दौर का मतदान, दीदी का पत्ता साफ हो जाएगा।
बंगाल में बन रही भाजपा की सरकार-
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पांचवें चरण के मतदान में भी कमल के फूल पर बटन दबाकर, भाजपा की सरकार बनाने के लिए भारी संख्या में मतदान हो रहा है। उन्होंने कहा कि बंगाल में जो सरकारें रहीं, उनके कुशासन ने आसनसोल को कहां से कहां पहुंचा दिया। केंद्र सरकार ने किसानों को बिचौलियों से मुक्त करने वाले कानून बनाए तो दीदी विरोध में उतर आईं। केंद्र सरकार ने किसानों के बैंक खातों में सीधे पैसे ट्रांसफर करने शुरू किए तो दीदी ने इससे भी किसानों को वंचित रखा।
लाश को लेकर रैली के लिए दीदी ने उकसाया-
प्रधानमंत्री मोदी ने रैली में ममता बनर्जी पर हमला करते हुए कहा कि अपने अहंकार में दीदी इतनी बड़ी हो गई हैं कि हर कोई उन्हें अपने आगे छोटा दिखता है। केंद्र सरकार ने अनेक बार कोरोना सहित अनेक विषयों पर बात करने के लिए बैठकें बुलाईं लेकिन दीदी कोई न कोई कारण बताकर इन बैठकों में नहीं आतीं।
प्रधानमंत्री ने कहा, “दीदी, केंद्रीय वाहिनी नहीं, सेना को बदनाम करती हैं। दीदी खुद को देश के संविधान से ऊपर समझती हैं। दीदी की आंखों पर अहंकार का पर्दा चढ़ा हुआ है। दीदी की राजनीति सिर्फ विरोध और गतिरोध तक सीमित नहीं है। वह प्रतिशोध की खतरनाक सीमा को भी पार कर गई हैं। बीते 10 साल में भजपा के सैकड़ों कार्यकर्ता की हत्या की गई है। कई पीड़ित परिवारों से मेरी बात हुई है। दीदी की वजह से कितनी मां ने अपने बेटों को खोया है। जाने कितनी बहनें अपने भाई को इंतजार कर रही है।”
उन्होंने कहा कि कूचबिहार में ऑडियो टेप से साफ हो गया कि दीदी पांच लोगों की मौत पर किस तरह की राजनीति कर रही हैं। कूचबिहार के टीएमसी के नेता को कहा जा रहा है कि मारे गए लोगों के साथ रैली निकालो। दीदी, वोटबैंक के लिए कहां तक जाएंगी आप? दीदी ने कूचबिहार में मारे गए लोगों से अपना सियासी फायदा सोचा। शवों पर राजनीति की दीदी की बहुत पुरानी आदत है। दीदी ने बंगाल का यह हाल बना दिया है। जनता को कुचल दिया है।
उन्होंने कहा कि ठप्पा वोट नहीं देने पर दीदी बौखला गई हैं। टीएमसी द्वारा अभियान चलाये जा रहे हैं। चुनाव आयोग पर दवाब बनाया जा रहा है। दिल्ली से लेकर बंगाल तक मोदी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। दीदी, आप कितनी भी साजिश कर दीजिए बंगाल के लोग खुद ही विफल कर रहे हैं। बंगाल के लोगों ने आपके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जनता सर्टिफिकेट देने वाली है। वह सर्टिफिकेट होगा, भूतपूर्व मुख्यमंत्री। इसे लेकर घूमते रहना।
उन्होंने कहा कि हम राज्य में कानून व्यवस्था वापस लाएंगे। हम यहां औद्योगीकरण करेंगे। पुलिस और प्रशासन भी आपकी सुविधा के लिए काम करेंगे। विकास के नाम पर बंगाल में केवल लूट हो रही है। ममता बनर्जी केंद्र की योजनाओं का विरोध कर रही हैं। हम बंगाल में वो सभी स्कीम लागू करेंगे जिन्हें ममता बनर्जी की सरकार ने रोक रखा है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: