अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

PM मोदी ने गंगा एक्सप्रेस वे का किया शिलान्यास, भोजपुरी में बोले- हम हाथ जोड़ के परनाम करत हई…


बरेली:- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शाहजहांपुर में गंगा देश के सबसे बड़े गंगा एक्सप्रेस वे का शिलान्यास कर दिया है। भोजपुरी में सबोधन शुरू करते हुए पीएम ने कहा कि काकोरी के शहीद ठाकुर रोशन सिंह, अशफाक उल्ला खान, रामप्रसाद बिस्मिल के हम हाथ जोड़ के परनाम करत हई। इस देश का कर्ज़ नहीं उतार सकते, जिस भारत को सर्वस्व न्योछावर कर दिए। हमारे शहीद, हम उन्हें भारत निर्माण करके श्रधांजलि दे सकते हैं। मां गंगा सारे उन्नति की स्रोत है, मां गंगा सारे पीड़ा हर लेती है, ऐसे ही गंगा एक्सप्रेस वे यूपी की उन्नति के रास्ते खोलेगी।उन्होंने कहा कि गंगा एक्सप्रेस वे 12 जिलों से जोड़ेगा। आज से यूपी के सबसे बड़े एक्सप्रेस वे का काम शुरू हो रहा है।
PM ने एक्सप्रेसवे के फायदे वरदान के रूप में गिनाए:-
पहला वरदान- लोगों के समय की बचत…
दूसरा वरदान- लोगों की सहूलियत में बढोतरी, सुविधा में बढोतरी…
तीसरा वरदान- यूपी के संसाधनों का सही उपयोग..
चौथा वरदान- यूपी के सामर्थ्य में वृद्धि…
पांचवा वरदान- यूपी में चौतरफा समृद्धि…
उन्होंने कहा कि एक छोर से दूसरे छोर तक 1000 किलोमीटर की दूरी तक फैले इस उत्तरप्रदेश को दमदार काम करने वाले डबल इंजन की सरकार की जरूरत है। आज नए एक्सप्रेसवे बनाये जा रहे हैं, नए रेलवे रूट बनाये जा रहे हैं, ये लोगों के लिए वरदान है। एक शहर से दूसरे शहर तक जाने में अब उतना समय नही लगेगा जितना पहले लगता था, ये एक्सप्रेसवे पश्चिम से पूरब को ही नही जोड़ेगा, ये दिल्ली से बिहार जाने में भी सहायक होगा। यहां के किसानों के लिए नया रास्ता बनाएगा, विशेष रूप से फूड प्रोसेसिंग के क्षेत्र में मदद मिलेगी। ये एक्सप्रेस वे अनन्त सम्भावनाओं का एक्सप्रेस वे है।संसाधनों का सही प्रयोग होता है, आज दिखाई देता है,पहले की हालत थी, अब विकास का पैसा लगाया जाता है। पहले परियोजनाओ का पैसा तिजोरी में जाता है।
पहली बार गरीबों के लिए काम करने वाली सरकार बनी है। पहले यहां रात बिरात कोई इमरजेंसी हो जाती थी,अस्प्ताल की जरूरत पड़ जाती थी तो लखनऊ कानपुर भागना पड़ता था, लेकिन अब तो सड़के भी हैं मेडिकल कॉलेज भी बने हैं। हरदोई और शाहजहांपुर में दोनों जगह योगी जी ने मेडिकल कॉलेज खोले हैं। साथ अन्य जिलों में भी दर्जनों मेडिकल कॉलेज खोले हैं।
पीएम ने कहा कि आप याद करिए पांच साल पहले का हाल…राज्य के कुछ इलाकों को छोड़ दें तो दूसरे शहरों और गांव-देहात में बिजली ढूंढे नहीं मिलती थी। डबल इंजन की सरकार ने ना सिर्फ यूपी में करीब 80 लाख मुफ्त बिजली कनेक्शन दिए, बल्कि हर जिले को पहले से कई गुना ज्यादा बिजली दी जा रही है।
बता दें कि शाहजहांपुर आने से पहले मोदी बरेली गए थे, जहां सीएम योगी ने उनका स्वागत किया। शाहजहांपुर में 36 हजार 230 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले प्रदेश के सबसे लंबे ‘गंगा एक्सप्रेस वे’ की पीएम मोदी आधारशिला रखेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित केन्द्र और राज्य सरकार के मंत्री एवं वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।
संगम नगरी प्रयागराज से मेरठ के बीच 594 किमी लंबा गंगा एक्सप्रेस वे न सिर्फ पूरब और पश्चिमी उत्तर प्रदेश की दूरी को कम करेगा बल्कि कई राज्यों को भी उत्तर प्रदेश के करीब लायेगा। इसका फायदा राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के अलावा हरियाणा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ समेत कई अन्य राज्यों को मिलेगा। पूर्वी यूपी से लेकर पश्चिमी यूपी के 12 जिलों से गुजरने वाले इस एक्सप्रेस वे के किनारे औद्योगिक गलियारे से लेकर कई अन्य आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा दिया जा रहा है। गंगा एक्सप्रेस वे पश्चिमी उप्र के मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, सम्भल, बदायूं और शाहजहांपुर जिले से गुजर रहा है।
पीएम ने कहा कि पहले यूपी में रात-बेरात कोई इमरजेंसी हो जाती थी, तो हरदोई, शाहजहांपुर के लोगों को लखनऊ भागना पड़ता था। यहां उतने अस्पताल नहीं थे, सड़के भी नहीं थी। आज यहां मेडिकल कॉलेज भी खुले हैं और सड़कें भी बनी हैं। उन्होंने कहा कि आपके पैसों का दुरुपयोग हम नहीं कर सकते। हम आपके पैसों से, आपके लिए ही काम करते हैं। आज गरीब का दर्द समझने वाली, गरीब के लिए काम करने वाली सरकार बनी है। घर, बिजली, पानी, शौचालय, गैस जैसी बुनियादी सुविधाएं देने के लिए हम काम कर रहे हैं।

%d bloggers like this: