May 13, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोरोना संकट में PM इमरान ने भारत के लिए भेजी दुआएं, कहा-“वैश्विक चुनौती का मिलकर करेंगे मुकाबला”

इस्लामाबाद:- भारत में कोरोना से बिगड़ते हालात पर अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस के अलावा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने चिंता जताई है। शनिवार को कोविड-19 महामारी की जानलेवा लहर से जूझ रहे भारत के लोगों के साथ एकजुटता व्यक्त करते हुए इमरान खान ने कहा , “मानवता के सामने आई इस वैश्विक चुनौती का हमें मिलकर मुकाबला करना चाहिए। ” खुद महामारी से जूझ रहे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कोरोना संकट में भारत के साथ एकजुटता जताते कहा कि वह कोरोना संकट से लड़ाई में भारतीयों के साथ हैं। हालांकि बढ़ते मामलों से निपटने में इमरान सरकार खुद जूझ रही है। सेना से मदद तक मांगी गई है। पाकिस्तान में बीते 24 घंटे के दौरान 157 कोरोना मरीजों की मौत हो गई और 5,908 नए संक्रमित पाए गए।
इमरान एक ट्वीट में कहा “हमारे पड़ोसी देश और दुनिया में महामारी से पीड़ित सभी लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने के लिये हमारी प्रार्थनाएं उन तक पहुंचे। ” उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “मैं भारत के लोगों के साथ हमारी एकजुटता व्यक्त करना चाहता हूं जो कोविड-19 के खिलाफ खतरनाक लड़ाई लड़ रहे हैं। हमें मानवता के सामने आई इस वैश्विक चुनौती का मिलकर मुकाबला करना चाहिए।” उनका यह ट्वीट पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के कोविड-19 के खिलाफ जंग में भारत के साथ एकजुटता व्यक्त करने के बाद आया है।
कोविड की व्यापक लहर झेल रहे प्रभावित परिवारों के प्रति कुरैशी ने सहानुभूति भी व्यक्त की। कुरैशी ने कहा कि कोविड संकट याद दिलाता है कि मानवीय मुद्दों पर राजनीति से ऊपर उठकर कदम उठाने की जरूरत है। उन्होंने कहा, ‘‘कोविड ने हमारे क्षेत्र में कहर बरपाया है। कोरोना की मौजूदा लहर में हम भारत के लोगों के प्रति समर्थन व्यक्त करते हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के लोगों की ओर से मैं भारत में प्रभावित परिवारों के प्रति हार्दिक सहानुभूति प्रकट करता हूं।’’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तान इस महामारी से निपटने के वास्ते सहयोग के लिए दक्षेस देशों के साथ मिलकर काम कर रहा है।
पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने भी भारत के लोगों के प्रति ऐसी ही संवेदनाएं व्यक्त कीं। उन्होंने ट्वीट किया, “इस मुश्किल वक्त में हमारी प्रार्थनाएं भारत के साथ हैं, ईश्वर उनके प्रति दयालु रहें और यह मुसीबत का समय जल्द बीत जाए। ” पाकिस्तानी नेताओं के ये ट्वीट ऐसे वक्त में आए हैं जब भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर मुद्दे पर संबंधों में सुधार आ रहा है। बता दें कि वर्ष 2019 के अंत में चीन से निकले घातक और जानलेवा कोरोना वायरस का प्रकोप भारत में बढ़ता जा रहा है।
कोरोना वायरस संक्रमण के आने वाले नए मामले हर रोज दुनिया भर का रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में भारत में 3,46,786 नए मामले सामने आए हैं। यह दुनिया भर के किसी देश में आए सबसे अधिक मामले हैं। इसके बाद अब तक देश में कुल कोरोना वायरस संक्रमितों का आंकड़ा 1,66,10,481 हो गया है। अब तक कोरोना वायरस से कुल 1,89,544 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में एक्टिव मामलों की कुल संख्या 25,52,940 है और अब तक 1,38,67,997 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं।
पाकिस्तान ने भारत को राहत सामग्रियों की पेशकश की
पाकिस्तान ने कोविड-19 की घातक लहर से लड़ने में मदद देने के लिए भारत को वेंटिलेटर समेत अन्य राहत सामग्रियां उपलब्ध कराने की पेशकश की है और कहा कि दोनों देश वैश्विक महामारी के कारण उभरी चुनौतियों से निपटने के लिए आगे सहयोग के संभावित तरीकों की संभावनाएं तलाश सकते हैं। विदेश मंत्रालय ने शनिवार रात एक बयान जारी कर कहा कि पाकिस्तान तौर-तरीकों का पता लगते ही कुछ खास सामग्रियां भेजने के लिए तैयार है। बयान में कहा गया, “कोविड-19 की मौजूदा लहर के मद्देनजर भारत के लोगों के साथ एकजुटता के भाव से, पाकिस्तान ने भारत को वेंटिलेटर, बी पीएपी एवं डिजिटल एक्स-रे मशीनें, पीपीई तथा अन्य संबंधित वस्तुओं की सहायता देने की पेशकश की है। इसमें कहा गया कि पाकिस्तान और भारत के संबंधित अधिकारी राहत सामग्रियों की त्वरित आपूर्ति के लिए तौर-तरीकों पर काम कर सकते हैं।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: