March 5, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दरभंगा किले को संरक्षित करने के लिए गणतंत्र दिवस के अवसर पर तिरंगा फहराने की योजना

दरभंगाः- ऐतिहासिक दरभंगा किले को संरक्षित करने के लिए दरभंगा महाराज के पौत्र ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर किले पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने की योजना बनाई है। इसे दूसरे लाल किला के नाम से भी जाना जाता है।
दरभंगा के अंतिम राजा के पौत्र कुमार कपलेश्वर सिंह ने ऐतिहासिक दरभंगा किले को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए गणतंत्र दिवस के अवसर पर किले पर मंगलवार को राष्ट्रीय ध्वज फहराने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि विशेष लोहे की सीढ़ी खड़ी की गई हैं और गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रीय तिरंगे को फहराने के लिए मुख्य किले के प्रवेश द्वार के शीर्ष पर पहुंचने के लिए नवीनतम हाइड्रोलिक उपकरण का उपयोग किया जा रहा है। यह जमीन से लगभग 75 फुट ऊंचा है।
वहीं दरभंगा किले को दरभंगा के राज किला के रूप में भी जाना जाता है। इसका निर्माण 20वीं शताब्दी की शुरुआत में दरभंगा के महाराजा कामेश्वर सिंह ने करवाया था। लाल ईंटों का उपयोग करके बनाया गया यह किला मिथिला संस्कृति का प्रतीक है। इसकी दीवारें करीब एक किमी लंबी हैं, जिन्हें बनाने के लिए कोलकाता स्थित एक कंपनी द्वारा हजारों कारीगरों को लगाया गया था। किले और शाही परिवार की सुरक्षा के लिए इसके भीतर दीवार के चारों ओर 40 फुट के लगभग नहर जैसा गड्ढा बनाया गया था, जो पानी से भरा रहता था। 59 साल के अंतराल के बाद दरभंगा शाही परिवार ने ऐतिहासिक दरभंगा किला को संरक्षित करने का काम शुरु किया है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: