रांची:- हजारीबाग, मेदिनीनगर और दुमका में बने तीनों मेडिकल कालेजों में इस साल ना मांकन होगा। नेशनल मेडिकल कमीश न से एमबीबीएस में नामांकन की अनुमति से संबंधित पत्र मिल गया है। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने सीटों की विवरणी के साथ काउंसिलिंग की अनुशंसा झारखंड संयुक्त प्रवेश प् ा्रतियोगिता परीक्षा पर्षद (जेसीईसीईबी) को भेज दी है। इन तीनों मेडिकल कालेजों में सौ-सौ सीटों पर नामांकन की अनुमति मिली है।
जिसमें 83-83 सीटों पर नामांकन राज्य कोटे के तहत जेसीईसीईबी के माध्यम से होगी। मान्यता नहीं मिलने के कारण पिछले साल इन तीनों मेडिकल कालेजों में नामांकन नहीं हो सका था।
झारखंड के मेडिकल कालेजों में इस बार तीनों नए मेडिकल कालेजों की सीट सहित सहित कुल 755 सीटों पर नामांकन होगा। इनमें केंद्र व राज्य दोनों कोटे की सीटें शामिल हैं। इधर, इस बार भी रिम्स में सीटें बढ़ाने की अनुमति नेशनल मेडिकल कमीशन से नहीं मिल सकी। इस साल जमशेदपुर स्थित मणिपाल टाटा मेडिकल कालेज में 25 सीटों के अलावा पलामू में लक्ष्मी चंद्रवंशी मेडिकल कालेज में भी 100 सीटों पर नामांकन होगा। बता दें कि लक्ष्मी चंद्रवंशी मेडिकल कालेज पूर्व स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का मेडिकल कालेज है। जिसे झारखंड मेडिकल कमीश न से इस साल पहली बार नाम् ांकन की मान्यता मिली है। इस तरह, राज्य में अब निजी क्षेत्र में दो-दो मेडिकल कालेज हो गए हैं, जिनमें नामांकन होगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: