अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जुबली पार्क का दोनों गेट स्थायी रूप से बंद करना न्यायसंगत नहीं-भाजमो


जमशेदपुर:- भाजमो जमशेदपुर महानगर ने कहा है कि जुबली पार्क की दोनों छोर के गेट को स्थायी रूप से बंद करना न्यायसंगत नहीं और जनता के अधिकारों का हनन है । भाजमो जमशेदपुर महानगर के प्रवक्ता आकाश शाह ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है की जुबली पार्क के बीच से गुजर रही साकची से बिष्टूपुर की ओर जाने वाली सड़क वर्षो पुरानी और सुगम मार्ग है। इस मार्ग से प्रतिदिन सैकड़ों लोग अपने गन्तव्य तक का रास्ता तय करते है। वाहनों के इस मार्ग पर आवागमन से आज तक जुबली पार्क को कोई नुकसान नहीं पहुंचा हैं और ना ही किसी शहरवासी ने कभी कोई आपत्ति दर्ज की है । जुबली पार्क के इस रास्ते की एतिहासिक पृष्ठभूमि रही है और यह आम लोगों के लिए सबसे सुगम और शुलभ रास्ता है और शहर के कई इलाके इस रास्ते से सीधे जुड़े हुए हैं । जुबली पार्क की सड़क बंद होने से यातायात प्रभावित हो रहा है और उपरोक्त क्षेत्रों तक जाने के लिए लोगों को अतिरिक्त दुरी तय करनी पड़ रही है। इस सड़क को बंद करने के उपरांत दुसरे सड़कों पर बढ़ने वाले ट्रैफिक लोड को कम करने के लिए प्रशासन ने कोई वैकल्पिक व्यवस्था तैयार नहीं की है जिससे राहगीरों के लिए बड़ी चुनौती बन गई है । इस सड़क के दुसरे छोर के इलोकों में शहर के कई हाइकुल संचालित है और स्कूल समय में एक रास्ता बंद होने से दुसरे पर अत्याधिक स्कूली वाहनों का परिचालन होगा और हेवी ट्रैफिक जाम कि स्तिथि उतपन्न होगी ।
इस सड़क पर सैर करने वालो की सुविधा के मद्देनजर उत्त रोड के दोनों किनारे पर बैरिकेडिंग कर सुरक्षित पाथ वे बनाया जा सकता है जिससे आम लोग सुगमता से पैदल चल सके और किसी भी पैदल चालक को कोई कठिनाई ना हो और गाड़ियों का आवागमन भी होता रहे । शहर में जिस हिसाब से यातायात का बोझ बढ रहा है शहर में परस्पर फ्लाईओवर का निर्माण नहीं हुआ है जिससे शहरवासी रोजाना हेवी ट्रैफिक जाम से जूझते है । शहर की आबादी बढी है और वाहनों की संख्या बढ़ी है इसलिए तत्काल इस रास्ते पर रोक लगाना जनहित के विरूद्ध होगा । विगत दिनों जिला उपायुक्त ने भी इस मामलें में स्वयं संज्ञान लेते हुए कहा था की एक हफ्ते के भीतर यह सड़क पुनः शुरू हो जाएगी ।
किंतु अभी तक उपायुक्त के आदेश पर कोई कारवाई नहीं हुई और सड़क के दोनों द्वार को बंद ही रखा गया है । जिससे जिला प्रशासन की विश्वसनीयता पर भी सवाल खड़ा होता है । जुबली पार्क का मामला जमशेदपुर के नागरिकों की सुविधा से जुड़ा है और इस विषय पर राजनीति नहीं होनी चाहिए और ना ही किसी भी दल को इस मुद्दे को अपने प्रतिष्ठा है जोड़ के देखना चाहिए । कुछ राजनीतिक दल के बयानों से यह प्रतित हो रहा है की जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय के द्वारा जनहित के इस महत्वपूर्ण विषय पर किए गए सार्थक पहल से राजनीतिक दलों की जमीन खिसक रही है और मजबुरन वे जनहित के विरुद्ध बयान दे रहें हैं । उनका यह निरर्थक प्रयास उनको काफी महंगा साबित होगा ।

%d bloggers like this: