अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जिलाध्यक्षों की सहमति से ही पार्टी से लोगों को जोड़ा जाएगा-राजेश ठाकुर


संगठन को वापस उसी बुलन्दी पर पहुंचाना है-आलमगीर आलम
रांची:- झारखण्ड प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर की अध्यक्षता में जिला कांग्रेस कमिटी के अध्यक्षों की पहली बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम एवं कार्यकारी अध्यक्ष गीता कोड़ा, बंधु तिर्की, जलेश्वर महतो व शहज़ादा अनवर भी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।
बैठक को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि टीम भावना के साथ पूरी मेहनत और कर्त्तव्यनिष्ठा के साथ संगठन को मजबूती प्रदान करने के लिए दिन-रात एक करके काम करना पड़ेगा। उन्होंने संगठन की दोहरी जिम्मेवारी बनती है, एक तरफ सरकार के द्वारा जनहित मे चलायी जा रही योजनाओं का लाभ सीधे आम जनता को मिले, इसकी भी निगरानी करनी है। साथ हीं साथ सांगठनिक स्तर पर पार्टी की विचारधारा के साथ ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ने का प्रयास करना है। ऐसी स्थिति में प्रयास होगा कि सम्बद्ध जिलों में सरकारी कार्यक्रमों में अधिकारियों के द्वारा जिलाध्यक्षों को उचित सम्मान मिले। जिलाध्यक्षों की सहमति से हीं पार्टी में लोगों को जोड़ा जायेगा। पार्टी गतिविधियों की जानकारी और कार्यकर्ताओं के बीच संवाद के दृष्टिकोण से हमें सोशल मीडिया प्लेटफार्म का भी खुलकर उपयोग करना चाहिए। ज़िला कांग्रेस कमिटी का अपना बैंक खाता होना चाहिए, इस हेतु जिलाध्यक्ष कार्रवाई करें।
बैठक को सम्बोधित करते हुए कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि एक समय था जब जिलाध्यक्षों के पीछे विधायक – सांसद घूमते थे। हमें संगठन को वापस उसी बुलन्दी पर पहुंचाना है। इस बात का विशेष ख्याल रहे कि संगठन में एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का माहौल न बने। कार्यक्रम का आयोजन में प्राथमिकता उसी स्थान को मिले, जहां से संगठन को मजबूती मिलेगी। हमें उस लोकोक्ति पैर रखकर चादर फैलाने को सत्य बनाना है।
बैठक को सम्बोधित करते हुए कार्यकारी अध्यक्ष व सांसद गीता कोड़ा ने कहा कि मन के हारे हार, मन के जीते जीत। आप जिला के अध्यक्ष है, आपको एक्शन में आने की जरूरत है। थोड़ा नरम, थोड़ा गरम के सिद्धांत को अपनाकर संगठन के माध्यम से जनहित के कामों को धरातल पर उतारना है।
कार्यकारी अध्यक्ष बंधु तिर्की ने ओबीसी आरक्षण को लेकर कांग्रेस पार्टी गंभीर है इसे लागू करने की दिशा में सरकारी प्रयास में गति देने के लिए हम कृत-संकल्पित हैं इस बात से आप जिले के लोगों को अवगत करवाएं ।
बैठक को सम्बोधित करते हुए कार्यकारी अध्यक्ष जलेश्वर महतो ने कहा कि सारी चीजें सरकार के भरोसे नहीं छोड़ी जा सकती है। जिलाध्यक्षों की सीधे जवाबदेही जनता के प्रति है। जनहित के मुद्दों अगर सरकार का निर्णय भी प्रतिकूल हो, तो संगठन उसके खिलाफ भी मुखर होगी।
बैठक को सम्बोधित करते हुए कार्यकारी अध्यक्ष शहजादा अनवर ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में सोनिया गांधी ने अनुभवी नेताओं की नई टीम बनायी है प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में एक नया अध्याय लिखा जायेगा।
आज की बैठक में सभी जिलाध्यक्षों के द्वारा संगठन की अधतन स्थिति से प्रदेश नेतृत्व को अवगत कराते हुए जिला एवं प्रखंड अध्यक्षों की सूची को सौंपा। ज़िला संगठन द्वारा विगत दिनों किये गए विस्तृत प्रतिवेदन भी प्रदेश कमिटी भी जिलाध्यक्षों को सौंपा गया । साथ ही साथ जिले में चल रहे सदस्यता अभियान भी विचार मंथन किया गया और अभियान को गति देने की बात कही गयी ।
सम्यक विचारोपरांत सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया की महीने में एक बार ज़िला समिति की विस्तारित बैठक आवश्यक रूप से आयोजित हो।
बैठक में जिलाध्यक्षों में सर्वश्री सुरेश बैठा, संजय पाण्डें, साबिर खान, सुखेर भगत, रोशन बरवा, अनूप केशरी, रामकृष्ण चौधरी, अवधेश कुमार सिंह, नरेश वर्मा, प्रमोद कुमार दूबे, मुन्ना पासवान, कमाल शहजादा, ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह, शंकर प्रजापति, रवीन्द्र कुमार वर्मा, मंजूर अंसारी, मनोज सहाय पिंकू, जैश रंजन पाठक उर्फ बिटटू, अरविन्द कुमार तूफानी, मुनेश्वर उरॉंव, विजय खां, अम्बर राय चौधरी, के0 रंजन बोयपाई, छोटेराय किस्कु, श्यामल किशोर सिंह, अनुकूल चन्द्र मिश्रा, दिनेश यादव, मुन्नम संजय एवं उदय लखमानी उपस्थित थे।
बैठक का धन्यवाद ज्ञापन कार्यालय प्रभारी अमूल्य नीरज खलखो ने किया। आज की बैठक में मीडिया की व्यवस्था को देखने के लिए प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद, शमशेर आलम, राकेश सिन्हा, डॉ0 एम0 तौसीफ, कुमार राजा एवं डॉ0 राकेश किरण महतो उपस्थित थे।

%d bloggers like this: