अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सिस्टम की ऐसी तैसी कर देते हैं सनातन जैसे लोग

अब कानून मंत्रालय को भेजी गई चिट्ठी

देश का प्रतिनिधि बनकर दो-दो बार सैर कर चुके हैं अफ्रीका और जापान

कोलकाता:- बंगाल में फर्जी वैक्सीन वाले जाली आईएएस देवांजन का मामला अभी ताज़ा ही था कि सनातन रायचौधरी की गिरफ्तारी ने देश और राज्य के पूरे सिस्टम की कलई खोलकर रख दी है।
जांच में पता चला कि सनातन दक्षिण अफ्रीका के जोहानसबर्ग में देश के प्रतिनिधि के हिसाब से ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लिए थे। वे जापान के टोक्यो में भी गए थे।
अगर यह दावा सही है तो जब पीएम जैसे सर्वोच्च पदधारी के डेलीगेशन में फर्जी व्यक्ति जगह बना लें तो वह व्यक्ति बाकी हर काम कर सकता है। इस पर व्यापक जांच जारी है।पुलिस ने कानून मंत्रालय को इस विषय में पत्र लिखा है।
पुलिस ने सनातन के पास भाजपा कि सदस्यता स्लिप पाने के बाद दल को भी पत्र भेजा है।
हालांकि सच यह भी है वर्ष 2009 में वह दमदम सीट से लोजपा के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं। आज लोजपा वाले मौन हैं।
सनातन कभी केंद्रीय, कभी राज्य की एजेंसी के साथ खुद को जोड़कर अपना गोरखधंधा चला रहे थे।

%d bloggers like this: