अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

फ़ोन टेपिंग से जुड़ा पेगासस की फर्जी कहानी,देश को गुमराह करने की सुनियोजित साजिश-बाबूलाल मरांडी


रांची:- भाजपा नेता विधायकदल एवम राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने कांग्रेस सहित यूपीए गठबंधन पर आज कड़ा प्रहार किया। बाबूलाल मरांडी आज भाजपा प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता को संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी द्वारा राजनीतिक स्वार्थ सिद्धि केलिये तथ्यहीन,निराधार और बेबुनियाद आरोप लगा रही है।कांग्रेस का यह पुराना चरित्र है जिसमे लगातार गिरावट आती जा रही। उन्होंने कहा कि देश मे एक वर्ग द्वारा झूठी कहानी गढ़ने का सिलसिला चल रहा जिसमे तथाकथित बुद्धिजीवी वर्ग शामिल है। उन्होंने कहा कि कभी अवार्ड वापसी,तो कभी भारत मे डर लगता है,जैसे नारे गढ़े गए। कभी तीन तलाक,कभी सीएए का विरोध तो कभी टूलकिट के सहारे किसानों को उकसाना, गुमराह करना जैसा कार्य किया गया।
कहा कि कोरोना संकट के बीच टीकाकरण पर भी देश को गुमराह करने में यह वर्ग पीछे नही रहा। उन्होंने कहा कि यह सब मोदी जी की बढ़ती लोकप्रियता से घबराकर किया गया निरर्थक प्रयास है। मरांडी ने कहा कि मानसून सत्र के ठीक पहले पेगासस की फर्जी कहानी सदन को बाधित करने और देश मे बेबुनियाद एजेंडा खड़ा करने की कोशिश है। उन्होंने कहा कि इसी चाल ,चरित्र के कारण कांग्रेस पार्टी से देश का भरोसा उठ गया है।कांग्रेस सिमट रही है,हार रही है। उन्होंने कहा कि इस फर्जी कहानी में भारत सरकार को जोड़ने वाले साक्ष्य का कोई सबूत प्रस्तुत नही किया गया है।यह रिपोर्ट केवल भारतीय लोकतंत्र और यहां की लोकतांत्रिक संस्थाओं को बदनाम करने की साजिश है। बाबूलाल मरांडी ने कहा कि एमनेस्टी जैसी संस्थाओं का भारत विरोधी घोषित एजेंडा रहा है। पेगासस कि फर्जी कहानी में अंतरराष्ट्रीय संगठनों की संलिप्तता है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए सरकारों द्वारा फ़ोन टैपिंग का पुराना इतिहास है। स्व चंद्रशेखर जी की सरकार इसी मुद्दे पर कांग्रेस ने गिराई थी। तत्कालीन केंद्रीय मंत्री श्री चिदंबरम ने तत्कालीन केंद्रीय मंत्री स्व प्रणव मुखर्जी पर आरोप लगाए थे। यूपीय शासन में 9000 फ़ोन और 500 ईमेल खातों की निगरानी की जाती थी।आज राजस्थान के कांग्रेस विधायक अपनी राज्य सरकार पर फोन टेपिंग का आरोप लगा रहे हैं।
बाबूलाल मरांडी ने कहा कि भारत मे बह रही विकास की धारा को कुछ ताकतों केलिये खतरे की घंटी के रूप में देखा जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत की प्रगति ने अंतरराष्ट्रीय गुटों और ताकतों को झकझोर कर रख दिया है। इसलिये ऐसी ताकते भारत के खिलाफ रोज नए नए साजिश रच रही है।

%d bloggers like this: