May 11, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पार्वती घाट में मृतकों के अंतिम संस्कार की लाइन लगी

लाइन तोड़कर अंतिम संस्कार की कोशिश कर रहे लोगों ने विरोध करने पर कर्मचारियों को पीटा, कर्मारियों ने अंतिम संस्कार का काम रोका, पुलिस पहुंची, आश्वासन के बाद फिर शुरु हुआ काम

जमशेदपुर:- श्मशान घाट में अपनी बारी को लेकर अंतिम संस्कार करने आए लोगों ने कर्मचारियों के साथ धक्का मुक्की की. पार्वती घाट के स्टाफ के साथ ही बदसलूकी की गयी. पार्वती घाट के मैनेजर विनोद तिवारी ने साफ तौर पर कह दिया कि जब तक घाट के स्टाफ को सुरक्षा मुहैया नहीं करायी जाती, तब तक हम लोग काम नहीं करेंगे. उसके बाद जुगसलाई पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और कार्रवाई के साथ-साथ सुरक्षा मुहैया कराये जाने का आश्वासन दिया. उसके बाद फिर से घाट पर अंतिम संस्कार शुरु हुआ. इस दौरान पार्वती श्मशान घाट में अंतिम संस्कार घंटों बाधित रहा. सुरक्षा के आश्वासन के बाद फिर से अंतिम संस्कार शुरू हुआ.पिछले 10 से 15 दिनों से अंतर्गत पार्वती श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार के लिये काफी भीड़ होती है. दरअसल साकची बर्निग घाट पर कोरोना के मरीजों का अंतिम संस्कार हो रहा है.

कर्मचारियों के साथ मारपीट के बाद भड़के घाट के मैनेजर, काम रोकवाया . इसलिये लोग डेडबॉडी लेकर पार्वती घाट पर ही पहुंच रहे हैं. लोग वहां नहीं जाना चाहते हैं. इसलिये रोज़ाना 40 से 50 शवों का अंतिम संस्कार हो रहा है. ऐसे में कर्मचारियों को भी कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. वहीं मंगलवार को शव का अंतिम संस्कार करने आए कुछ लोगों ने जल्दीबाजी के चक्कर में श्मशान घाट के कर्मचारियों की पिटाई कर दी. जिसकी वजह से अंतिम संस्कार को बीच में ही छोड़ कर्मचारियों ने अपने कार्य को रोक दिया. जिसकी वजह से लगभग 20 से 25 शवों का अंतिम संस्कार का काम रुक गया. जानकारी देते हुए पार्वती श्मशान घाट के मैनेजर विनोद तिवारी ने कहा कि एक तो वे लोग दबाव में काम कर रहे हैं. रोज 40 से 50 शव का अंतिम संस्कार कर रहे हैं. ऊपर से जो लोग अंतिम संस्कार के लिए आते हैं, जल्दी बाजी को लेकर कर्मचारियों के साथ मारपीट करते हैं. धक्का-मुक्की करते हैं. जिसकी वजह से उन्होंने अंतिम संस्कार को रोक दिया जब तक जिले के वरीय प्रशासनिक पदाधिकारी उनकी सुरक्षा कर्मचारियों की सुरक्षा सुनिश्चित नहीं करेंगे तब तक अंतिम संस्कार नहीं होगा.

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: