January 17, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पालघर:मॉब लिंचिंग केस में कैलाश खेर ने सीबीआई जांच की मांग

मुम्बई:- बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को बड़ा फैसला सुनाया ऐसे में अब इस केस की जांच सीबीआई करेगी। वहीं, दूसरी तरफ इस केस के बाद अब बॉलीवुड सिंगर कैलाश खेर ने ट्विटर पर मांग की है कि पालघर में हुई संतों की निर्मम हत्या मामले की भी सीबीआई द्वारा जांच की जानी चाहिए। फिल्ममेकर विवेक अग्निहोत्री के एक ट्वीट पर जवाब देते हुए कैलाश खेर ने ये बात कही है। कैलाश खेर ने ट्विटर पर ##CBIForSaints लिखकर पालघर मॉब लिंचिंग केस में सीबीआई (CBI) द्वारा जांच की बात कही है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “साहब अब शिव का तांडव प्रारम्भ हुआ है, #RepublicForSushant पालघर में संतों की निर्मम जघन्य हत्या की भी #CBIForSSR की तरह #CBIForSaints Next। इसके बाद उन्होंने संस्कृत का एक श्लोक लिखकर कहा, “दक्ष सुयज्ञ विनाशन लिंगम, तत् प्रणमामी सदाशिव लिंगम। शिव की दृष्टि से कोई नही बच पाया, युग परिवर्तन,सुधार काल। डराने वालों को डरते हुये देखना कितना दृष्टिकोण बदल देता है। शिव के 7 रहस्य। कैलाश खेर ने कहा कि संतों को सताने वालों को खुद शिव भी क्षमा नहीं करते हैं। उन्होंने लिखा, “संत को सताया जिसने भस्म उसको किया शिव ने। जब डराने वाले डरने लगें तो समझो शिव की तीसरी आँख खुल गई है, सत्य का पर्चा देवलोक में जाँचा जा रहा है। एक एक अपराध का चुन चुन कर न्याय होगा। उल्लेखनीय है, कि पालघर में मॉब लिंचिंग की घटना 16 अप्रैल की रात हुई थी। जब दो साधू तथा उनका चालक परिचित के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए कार से मुंबई से गुजरात के सूरत जा रहे थे। उनके वाहन को पालघर के गढ़चिंचले गांव के पास रोक लिया गया, जहां भीड़ ने बच्चा चोरी करने के संदेह में तीनों को कार से बाहर निकाला और उनकी लाठियों से पीट-पीटकर हत्या कर दी। मृतकों की पहचान चिकने महाराज कल्पवृक्षगिरी (70), सुशीलगिरी महाराज (35) और चालक निलेश तेलगड़े (30) के रूप में की गई। महाराष्ट्र सरकार ने घटना की सीआईडी जांच के आदेश दिए थे।

Recent Posts

%d bloggers like this: