अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पलामू के श्रमिक का अंतिम संस्कार संपन्न, बेंगलुरू में बिल्डिंग से गिरने से हुई थी मौत

राज्य सरकार के निर्देश के बाद एंबुलेंस से वापस लाया गया था शव



रांची:- बेंगलुरू में 03 नवंबर को झारखंड (पलामू जिला) के श्रमिक देव सिंह की मृत्यु एक दुर्घटना के बाद अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई थी। मामले में राज्य सरकार के हस्तक्षेप के बाद उनका शव एंबुलेंस के जरिये पलामू स्थित उनके गांव अवसन ग्राम में 5 नवंबर की शाम पहुंचा था। परिजनों को शव की सुपुर्दगी के बाद पांच नवंबर को ही अंतिम संस्कार कर दिया गया था। बता दें कि देव सिंह बेंगलुरू के कड्डपा इलाके में एक निर्माणाधीन बिल्डिंग में मिस्त्री का काम कर रहे थे। वह पलामू के चैनपुर प्रखंड स्थित अवसन ग्राम के निवासी थे।
जानकारी के अनुसार, बीते रविवार 31अक्टूबर की रात खाना खाने के बाद देव सिंह सोने जा रहे थे। इसी क्रम में उनका पैर फिसल गया और वह बिल्डिंग से नीचे गिर गये। बाद में देव सिंह के श्रमिक साथियों ने उन्हें देखा और अगले दिन कड्डपा अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनकी गंभीर हालत को देखते हुए ठेकेदार ने उन्हें दक्षिण कर्नाटक के पुथूर स्थित वेनलॉक जिला अस्पताल में भर्ती कराया।
इलाज के दौरान ही देव सिंह की मृत्यु 03 नवंबर को हो गई। विधायक श्री केएन त्रिपाठी द्वारा इस घटना की जानकारी श्रम विभाग के राज्य प्रवासी श्रमिक नियंत्रण कक्ष को दी गई थी।
झारखण्ड सरकार के निर्देश पर राज्य प्रवासी श्रमिक नियंत्रण कक्ष ने काम करा रहे ठेकेदार और बेंगलुरू के संबंधित थाने से बातचीत की और मृतक देव सिंह का पोस्टमार्टम कराया। नियंत्रण कक्ष से बातचीत के बाद कंट्रोल रूम ने ठेकेदार से बातचीत कर उनके शव को झारखंड भेजने की व्यवस्था करने को कहा । ठेकेदार ने शव को एंबुलेंस से पलामू भेजने के लिए कुल 1,30,000 रुपये उपलब्ध कराया। शव को वापस लाने में श्रम विभाग के पदाधिकारी, राज्य प्रवासी श्रमिक नियंत्रण कक्ष और बेंगलुरू पुलिस प्रशासन का विशेष सहय़ोग रहा है।

%d bloggers like this: