March 7, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

साइबर क्राइम को लेकर अमेरिका की टीम के शोध की खबर भ्रामक

जामताड़ा की छवि बिगाड़ने की हो रही है कोशिश

जामताड़ा:- साइबर क्राइम के कारण देश दुनिया में चर्चित और सुर्खियां बटोरने वाले जामताड़ा जिले के साइबर क्राइम की घटना को अंजाम देने के अनूठे और नये नये तरीके इजाद करने को लेकर अमेरिकी की टीम द्वारा शोध करने को लेकर सोशल मीडिया पर कुछ दिनों से वायरल हो रही खबर भ्रामक और सत्य से परे है। आम लोग इस तरह की खबर से हैरान हैं और इसे जामताड़ा की छवि को धूमिल करने की कोशिश करार दे रहे हैं। एसपी को भी इस तरह की कोई आधिकारिक जानकारी नहीं। पिछले कई दिनों से अमेरिका की टीम द्वारा जामताड़ा के साइबर अपराधियों के अनूठे और नायाब तरीका अपनाकर लोगों के बैंक खाते में पैसे उड़ाने में महारत हासिल साइबर क्राइम की घटना को अंजाम देने को लेकर अमेरिका की टीम द्वारा शोध करने से संबंधित खबर अखबारों और सोशल मीडिया पर देखकर एसपी दीपक कुमार सिन्हा आश्चर्य चकित हैं। इसी क्रम में उन्होंने बुधवार को इस वायरल खबर पर आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि पिछले कई दिनों से जामताड़ा के साइबर अपराधियों पर अमेरिकी टीम द्वारा शोध की बात विभिन्न अखबारों और सोशल मीडिया और न्यूज़ पोर्टल पर छाया हुआ है। यह खबर न सिर्फ जामताड़ा के आमलोगों में बल्कि साइबर अपराधियों के बीच भी एक कोतुहल का विषय बना हुआ है। उन्होंने कहा कि उन्हें इस बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है,उन्हें भी अखबारों और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से ही इसकी जानकारी हुई है। स पर उन्होंने कहा कि पुलिस जिले में साइबर अपराधियों पर नकेल कसने के लिए तत्परता से कार्रवाई कर रही । उन्होंने बताया कि जामताड़ा की अपेक्षा झारखंड के अन्य कई जिलों में साइबर अपराधी अपना कार्य क्षेत्र बढ़ा रहा है। जामताड़ा के साथ अन्य जिलों में भी साइबर अपराध व्यापक पैमाने पर चल रहा है। जहां रोज साइबर अपराधी गिरफ्तार किए जा रहे हैं। एसपी ने बताया कि बीते वर्ष जामताड़ा जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में पुलिस ने 160 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है,जिनके पास से लाखों रुपए नकद, एटीएम, पासबुक ,महंगी गाड़ियां सहित साइबर अपराध में प्रयुक्त सामग्री बरामद की गयी है। पुलिस साइबर अपराधियों के नेटवर्क को तोड़ने का काम कर रही है और इसमें सफलता भी मिलती दिख रही है। इस वज़ह से वर्तमान में जामताड़ा जिले में पहले की अपेक्षा साइबर अपराध की घटनाओं में काफी कमी आयी है।
इस बीच बताया जा रहा है कि अमेरिकी की टीम द्वारा जामताड़ा में साइबर अपराधियों पर शोध की बात से आम जनमानस और देश के बीच जामताड़ा की छवि को और कुख्यात जिले के रूप में पेश करने की कोशिश की जा रही है। बीते 3 दिनों से जामताड़ा के विभिन्न अखबारों और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अचानक इस खबर के आने के बाद पूरे जिले में अब इस बात की चर्चा की जा रही है कि आखिर ऐसे खबरों से जामताड़ा की छवि धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: