अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

चार करोड़ की आबादी वाले अंगिका समाज के शिक्षा, रोजगार और सांस्कृतिक विकास की दिशा में ध्यान देने की जरुरत-आलोक दूबे


अंगिका समाज की ओर से सदस्यता अभियान की लांचिंग
रांची:- पवित्र सावन महीने में राजधानी रांची के पहाड़ी मंदिर प्रांगण में आज अंगिका समाज की ओर से सदस्यता अभियान की शुरुआत हुई। सामाजिक कार्यकर्त्ता आलोक कुमार दूबे ने झारखंड प्रदेश अंगिका समाज की ओर सदस्यता अभियान की लांचिंग की।इस मौके पर समाज के महासचिव डॉ0 श्रीमोहन सिंह समेत संगठन के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।
जूझारू सामाजिक कार्यकर्त्ता आलोक कुमार दूबे ने इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि देशभर के विभिन्न राज्यों में अंगिका समाज के करीब चार करोड़ लोग निवास करते है। जबकि झारखंड और बिहार के कई हिस्सों में अंगिका समाज के लोगों की बहुलता है। इनके लिए शिक्षा, रोजगार, सांस्कृतिक विकास की व्यवस्था होनी चाहिए, जिसके लिए प्रयास हो रहा है। सदस्यता के अभियान के माध्यम से सभी को संगठन से जोड़ कर सभी के आर्थिक-सामाजिक विकास की दिशा में पहल की जाएगी और राजनीतिक दलों पर दबाव भी बनाया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि बिहार-झारखंड के नवनिर्माण में अंकिगा समाज की महत्वपूर्ण भूमिका रही है, संगठन की कई समस्याओं से जल्द ही कृषि मंत्री बादल से मुलाकात कर अवगत कराया जाएगा। समाज की ओर से प्रमुख मांगों में प्रतियोगिता परीक्षाओं में अंगिका भाषा को मान्यता देने और द्वितीय राजभाषा का दर्जा मिल जाने के बाद जो सुविधा उर्दू और अन्य क्षेत्रीय और जनजातीय भाषाओं को मिल रही है, उसी तरह की सुविधा अंगिका भाषा को भी मिलनी चाहिए। इन सभी मांगों से सरकार को अवगत कराया जाएगा।
इस मौके पर समाज के महासचिव डॉ0 श्रीमोहन सिंह अन्य भाषाओं की तरह अंगिका भाषा की पढ़ाई 10वीं और 12वीं कक्षा में होनी चाहिए, इसके लिए शिक्षक और पाठ्य पुस्तक एवं सिलेबस की व्यवस्था होनी चाहिए। जेपीएससी समेत अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं में भी अंगिका को मान्यता प्रदान की जाए, साथ ही राज्यसभा में उपराष्ट्रपति की ओर से यह व्यवस्था की गयी है कि जिन भाषाओं को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल किया गया है, उसके लिए राज्यसभा में अनुवादक की व्यवस्था होगी। इस तरह के प्रयास से अंगिका समाज के बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिल सकेगा।
इससे पहले झारखंड प्रदेश अंगिका समाज की ओर से मुख्य अतिथि डॉ0 आलोक कुमार दूबे का पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया गया। डॉ0 श्रीमोहन सिंह ने स्वागत वक्तव्य देकर अभिनंदन किया। कार्यक्रम के दौरान आलोक कुमार दूबे के साथ अन्यलोगों ने सदस्यता शुल्क जमाकर विधिवत सदस्यता ग्रहण की शुरुआत की। इस मौके पर संतोष कुमार सिन्हा, मोहन रजक, कार्यकारी अध्यक्ष डॉ0 एसकेपी सिंह, अनिल चौधरी, महानंद ठाकुर, प्रद्युम्न सिंह, आलोक कुमार, अमित भगत, नरोत्तम सिंह, दिलीप सिंह, विभाष मिश्र, नंद किशोर झा समेत अनेक लोग उपस्थित थे।

%d bloggers like this: