चतरा हंटरगंज थाना क्षेत्र के बॉर्डर पर अंबाखार गांव में टीपीसी के सबजोनल कमांडर बसंत की नक्सलियों ने हत्या कर दी।

झारखंड पुलिस की दबिस के कारण वह लंबे समय से क्षेत्र से पलायन किए हुए था। बसंत रोशनगंज थाना क्षेत्र को अपना कार्यक्षेत्र बनाए हुए था। जिसकी जानकारी नक्सली कमांडर अमरजीत को हुई। इससे वह विचलित था।

फिर वह उसे ठिकाने लगाने की फिराक में लग गया था। आखिरकार नक्सली को अपने मकसद में कामयाबी हासिल हुई ।

टीपीसी सब जोनल कमांडर बसंत बांके बाजार थाना के रोशनगंज गांव का रहने वाला था। वह लंबे समय से एमसीसी एवं टीपीसी में जुड़कर कई विध्वंसक कार्रवाई करने में सफल रहा है।

लंबे अंतराल के बाद टीपीसी एवं नक्सली के हत्या का दौर पुनः प्रारंभ हो गया ।

बसंत की हत्या से टीपीसी को काफी क्षति हुआ है। इस घटना को वह किस रूप में लेती है यह आने वाले दिनों में देखने को मिलेगा।बसंत सिंह भोक्ता उर्फ रुस्तम ईश्वरी उर्फ जय करण पिता चंद्र देव भोक्ता ग्राम अंबा खाड़ थाना रोशनगंज जिला गया का रहने वाला था। उसने एमसीसी को छोड़कर 2007 में टीपीसी का सब जोनल कमांडर बना था।

Leave a Reply

%d bloggers like this: