March 2, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मुजफ्फरपुर के शराब धंधेबाज का हवाला कारोबारियों से जुड़ा तार

मुजफ्फरपुर:- विशेष पुलिस टीम के हत्थे चढ़े शराब धंधेबाज राजेश कुमार यादव के तार हवाला कारोबारियों से भी जुड़े हैं। पुलिस पूछताछ के दौरान हवाला कारोबार से जुड़े कई लोगों के नाम सामने आए हैं। हवाला के माध्यम से शराब धंधेबाज के द्वारा हरियाणा व अन्य प्रदेशों में बैठे शराब के बड़े तस्करों को रुपये भेजे जाते थे। पुलिस का कहना है कि इन हवाला कारोबारियों के विरुद्ध भी नकेल कसी जाएगी। इसके लिए टीम कार्रवाई कर रही है। इसमें पटना, दरभंगा, सीतामढ़ी, मोतिहारी व मुजफ्फरपुर के कई बड़े हवाला कारोबारियों के नाम सामने आए हैं।

लूट के 22 मामलों में था फरार

पुलिस का कहना है कि आरोपित राजेश के विरुद्ध पूर्वी चंपारण के राजेपुर थाना में लूट, हत्या का प्रयास, विस्फोटक अधिनियम और आम्र्स एक्ट के 13 मामले दर्ज हैं। कई मामलों में वह चार्जशीटेड भी है। इसके अलावा मोतिहारी, चकिया, सिवाईपट्टी, तरियानी, पताही और मुफस्सिल थाना में नौ लूट और आम्र्स एक्ट के मामले दर्ज हैं। वह पूर्व में कई बार जेल जा चुका है।

छिनतई की घटनाओं में रहा है संलिप्त

बताया गया कि गांव में इंटरमीडिएट की पढ़ाई के दौरान ही वह छिनतई करने वाले गिरोह से जुड़ गया था। उसने हाईवे पर छिनतई की कई घटनाओं को अंजाम दे रखा है।
ससुर हरियाणा में शराब धंधेबाज के यहां मैनेजर
राजेश के ससुर राजकुमार राय हरियाणा में एक बड़े शराब धंधेबाज जितेंद्र उर्फ जिते नागर के यहां मैनेजर का काम करता है। शराबबंदी होने के बाद वही राजेश को इस धंधे में लाया था। तब से लेकर अभी तक मुजफ्फरपुर समेत उत्तर बिहार में अरबों रुपये की शराब की सप्लाई वह कर चुका है।

बैंक खाते को किया जाएगा फ्रिज

पुलिस का कहना है कि उसके पास से दर्जनों बैंक खाते मिले हैं। भगवानपुर स्थित एक बैंक खाते में उसने हाल ही में 25 हजार रुपये जमा कराए हैं। एक अन्य बैंक खाते में दो लाख पांच हजार एक सौ पचीस रुपये जमा हैं। उसके सभी बैंक खातों को फ्रिज करने की कवायद शुरू कर दी गई है।
तलाशी के दौरान राजेश के पास से डीटीओ मुजफ्फरपुर से जारी ड्राइविंग लाइसेंस भी मिला है। साथ ही पत्नी के नाम के दो पैन कार्ड बरामद हुए हैं। दोनों पर नाम व पता एक ही है। लेकिन, उम्र में फेरबदल की गई है।

दस्तखत किए हुए कई ब्लैंक चेक मिले

राजेश के पास से दस्तखत किए हुए कई ब्लैंक चेक मिले हैं। उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक के पूर्वी चंपारण की पीपरा कोठी शाखा के दस्तखत किए हुए दो चेक मिले हैं। एक पर 4.21 लाख और दूसरे चेक पर भी 4.21 लाख रुपये की रकम भरी हुई है। दोनों चेक पर अनिल कुमार के दस्तखत हैं। इन सभी को फ्रिज करने की कवायद शुरू कर दी गई है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: