May 11, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बंगाल में बोले मोदी, बौखला गई हैं दीदी, विदाई तय

कोलकाता:- पश्चिम बंगाल में शनिवार को चौथे चरण के मतदान वाले दिन लगातार हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तीखा हमला बोला है। उत्तर बंगाल के सबसे बड़े शहर सिलीगुड़ी में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने आज कहा कि दीदी बौखला गई हैं और उनकी विदाई तय है। उन्होंने कहाकि नॉर्थ बंगाल, भारत मां के गले में ऐसी भव्य माला है जिसमें अलग-अलग भाषा, जाति, भिन्न-भिन्न समुदाय के लोग अलग-अलग फूलों में गुंथे हुए हैं। यहां एक भारत-श्रेष्ठ भारत की सुंदर तस्वीर दिखती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बंगाल में नव वर्ष शुरू होने वाला है। नव वर्ष में बुराई पर अच्छाई की जीत होने जा रही है, भाजपा की जीत होने जा रही है। उन्होंने कहा कि बंगाल में भाजपा की जीत देख, दीदी और उनके गुंडे बौखला गए हैं। उन्होंने कूचबिहार में मारे गए लोगों के लिए संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने चुनाव आयोग से सख्त से सख्त कार्रवाई का आग्रह किया है। उन्होंने कहा, “दीदी और तृणमूल के नेताओं की सोच क्या है ये अब खुलकर सामने आ रहा है। एक वीडियो सामने आया है जिसमें दीदी की करीबी एक नेता ने अनुसूचित जाति के लोगों का बहुत बड़ा अपमान किया है। उन्होंने कहा कि बंगाल में जो अनुसूचित जाति है, एसटी समुदाय है वो भिखारियों की तरह व्यवहार करती है। आपके साथ-साथ जाएंगे तोलाबाज। आपके साथ-साथ जाएंगे सिंडिकेट। आपके साथ जाएगी, नॉर्थ बंगाल से भेदभाव करने वाली आपकी दुर्नीति। आपके साथ-साथ जाएगी बंगाल से तुष्टिकरण की राजनीति। बंगाल के लोग आपकी जागीर नहीं हैं दीदी। इसलिए बंगाल के लोगों ने तय कर दिया है कि आपको जाना ही होगा। बंगाल की जनता आपको निकालकर ही दम लेने वाली है। आप अकेली नहीं जाएंगी। आपके पूरे गिरोह को जनता हटाने वाली है। प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा, “मैंने एक वीडियो देखा जिसमें दीदी के करीबी, बंगाल के टूरिज्म मिनिस्टर और यहां पास के विधायक, लोगों को धमका रहे थे। उन्होंने कहाकि भाजपा को वोट दिया तो लोगों को उठाकर बाहर फेंक दिया जाएगा। सब कुछ कैमरे में कैद है, ये गुंडागर्दी खुलेआम है। ये दीदी के 10 साल के राज की सच्चाई है। बंगाल में दशकों से जिस तरह का राजनीतिक वातावरण बना दिया गया है, वो बदलने का समय आ गया है। अब तोलाबाज मुक्त बंगाल बनेगा। अब सिंडिकेट मुक्त बंगाल बनेगा। अब कटमनी मुक्त बंगाल बनेगा। यहां से निकली संतानों ने साहित्य से लेकर सेना तक, सभी को मजबूत किया है। आज उन्हीं की प्रेरणा से बंगाल ने आशोल पॉरिबोर्तोन का नारा बुलंद किया है। उन्होंने कहाकि जिस बंगाल को डर के, भय के, अत्याचार के, अन्याय के बोझ तले दीदी और उनके दल ने दबा रखा था, आज वो कह रहा है- आशोल पॉरिबोर्तोन। कूचबिहार हिंसा पर दुख व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “इस बीच कूचबिहार में जो हुआ है, वो बहुत दुखद है। जिन लोगों की मृत्यु हुई है, मैं उनके निधन पर दुख जताता हूं। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं। भाजपा के पक्ष में जनसमर्थन देखकर दीदी और उनके गुंडों की बौखलाहट बेकाबू होती जा रही है। अपनी कुर्सी जाते देख दीदी इस स्तर पर उतर आई हैं। लेकिन मैं दीदी को, टीएमसी को, उनके गुंडों को, साफ-साफ कह देना चाहता हूं। दीदी और टीएमसी की मनमानी बंगाल में नहीं चलने दी जाएगी। मेरा चुनाव आयोग से आग्रह है कि कूचबिहार में जो हुआ, उसके दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई हो। प्रधानमंत्री ने रैली में कहा, ‘ममता दीदी, ये हिंसा लोगों को सुरक्षा बलों पर आक्रमण करने के उकसाने के तरीके, चुनाव प्रक्रिया में रोड़े अटकाने के तरीके आपको नहीं बचा पाएंगे। आपके 10 साल के कुकर्मों से ये हिंसा आपकी रक्षा नहीं कर सकती है।’ उन्होंने कहा कि नॉर्थ बंगाल की इस धरती ने आज ऐलान कर दिया है-टीएमसी सरकार जा रही है, भाजपा सरकार आ रही है। तुम्हें पता है मैं एक चाय वाला हूं। पूरे उत्तर बंगाल ने मुझे बहुत स्नेह और आशीर्वाद दिया है। उन्होंने कहा कि बंगाल में दशकों से जिस तरह का राजनीतिक वातावरण बना दिया गया है, वो बदलने का समय आ गया है। अब तोलाबाज मुक्त बंगाल बनेगा। अब सिंडिकेट मुक्त बंगाल बनेगा। अब कटमनी मुक्त बंगाल बनेगा।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: