अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बाबा मंदिर खोलने की मांग को लेकर देवघर बंद का मिलाजुला असर


रांची:- बाबा बैद्यनाथधाम मंदिर के पुरोहित, स्थानीय नागरिकों और दुकानदारों द्वारा आहूत देवघर बंद का आज मिलाजुला असर देखने को मिला। देवघर शहर में बंद के समर्थन में पुरोहित और स्थानीय लोग सड़क पर उतरे और समर्थन का आग्रह किया। इस दौरान मंदिर के आसपास के क्षेत्रों में लगभग सभी दुकानें बंद रही। पंडा धर्म रक्षणि सभा ने स्थानीय लोगों की भावना को ध्यान में रखते हुए मंदिर खोलने का आग्रह किया है।
विभिन्न संगठनों की ओर से सामूहिक रूप से आज देवघर बंद की घोषणा की थी अहले सुबह से ही इसका आंशिक असर देखने को मिल रहा है कई बार धरना प्रदर्शन करने के बाद सरकार और जिला प्रशासन को अल्टीमेटम दिया गया था कि वे सोमवार को जन्माष्टमी के मौके पर बाबा मंदिर को खोलें नहीं तो देवघर बंद कराया जाएगा लेकिन सरकार ने इस पर कोई भी निर्णय नहीं लिया ऐसे में आज सुबह से ही पुरोहित स्थानीय दुकानदार और स्थानीय लोग सड़कों पर दिखे कई दुकानें खुली है तो कई दुकान स्वत ही बंद रखी गई है। खासकर सामान्य बाजारों में इसका कोई असर नहीं है लेकिन मंदिर के आसपास के क्षेत्रों में लगभग सभी दुकानें बंद रखी गई है पंडा धर्म रक्षणि सभा के महामंत्री कार्तिक नाथ ठाकुर की अगुवाई में आज कई दुकानों को बंद भी कराया गया है । इस मौके पर महामंत्री कार्तिक नाथ ठाकुर ने कहा कि सरकार ने इनके मांगों पर विचार नहीं किया ऐसे में आज जबरन दुकानें नहीं बंद कराई जा रही है लोग स्वतः ही अपनी दुकानें बंद कर रहे हैं उन्होंने कहा है कि हेमंत सोरेन एक सुलझे हुए मुख्यमंत्री हैं और राज्य की भलाई और जनता के भावनाओं का सम्मान करते हैं । लेकिन कुछ राजनीतिज्ञों के द्वारा अपनी राजनीति चमकाने के लिए उन्हें भ्रमित किया जा रहा है । उन्होंने कहा है कि जल्द ही मुख्यमंत्री पर निर्णय लेंगे और यहां के पुजारी दुकानदार और स्थानीय लोगों की भावनाओं को समझते हुए मंदिर खोलेंगे। वही इस बंदी का देवघर के कई व्यवसायिक संगठनों ने भी समर्थन दिया है जिनमें प्रमुख रूप से खुदरा दुकानदार संघ बैजनाथ धाम चेंबर ऑफ कॉमर्स फुटपाथ दुकानदार संघ आदि शामिल है बाइट महामंत्री पंडा धर्मरक्षणि सभा कार्तिक नाथ ठाकुर।

%d bloggers like this: