अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग में नाबालिग को मिली मौत की सजा, प्रेमिका के भाई, पिता और दो अन्य प्रेमी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

आरोपियों की निशानदेही पर 6 दिनों बाद बरामद हुआ युवक की शव

चतरा:- पिछले 6 दिनों से लापता काशीकेवाल गांव के एक नाबालिक लड़के का शव हंन्टरगंज के डाटम गढ़ स्थित चमरदखी नाला से पुलिस ने किया बरामद। पुलिस ने हत्यारों को भी गिरफ्तार कर लिया है गिरफ्तार हत्यारों में डटमी गांव के विक्रम यादव और प्रकाश दास और काशीकेवाल गांव के मो सरफराज है। तीनो की निशानदेही पर लापता शख्स का शव बरामद किया गया है। हरजीत के पिता बसंत साव और माता सोना देवी के द्वारा 8 जून को अपने बेटे के लापता होने की लिखित सूचना पुलिस को दिया था। मृतक युवक के माता-पिता ने अपने बेटे को गायब करने का संदेश अपने ही गांव के फिरोज मियां, सरफराज मियां सहित उनके परिजनों पर लगाया था। मृतक के माता-पिता ने पुलिस को बताया था कि उनका पुत्र का प्रेम प्रसंग फिरोज मियां के बेटी से था। जिसे लेकर प्रेमिका के माता पिता और भाइयों ने शख्स को जान से मारने की धमकी दिया था। पुलिस ने लापता शख्स के माता-पिता के संदेह के अनुसार करवाई करने में जुट गई। मामला के प्रकाश में आने के 24 घंटे के अंदर एसडीपीओ अविनाश कुमार के नेतृत्व में थाना प्रभारी राजीव रंजन ने पूरे मामले से पर्दा उठाते हुए मामले का खुलासा किया। प्रेमिका के मोबाइल ट्रेस के जरिए हत्यारे विक्रम यादव और प्रकाश दास को गिरफ्तार किया गया। प्रेमिका के भाई ने हत्यारों के साथ मिलकर 3 जून के रात लड़की के मोबाइल से फोन कर शख्स को बुलाया था। जिसके बाद विक्रम यादव और प्रकाश दास और लड़की के भाई सरफराज ने उसे घटनास्थल पर ले जाकर उसकी हत्या कर दिया। पुलिस ने घटनास्थल से एक चाकू बरामद किया है। ग्रामीणों ने संदेह प्रकट किया है कि चाकू से गोदकर शख्स की हत्या कर दी गई है और उसका शव नाला में डाल दिया गया था। पुलिस के पूछताछ में दोनों युवकों ने अपने गुनाह को कबूल किया और उनके निशानदेही पर शव को बरामद किया गया। लड़की का प्रेम प्रसंग दोनों हत्यारों और मृतक शख्स के साथ चल रहा था जिसे विक्रम और प्रकाश बर्दाश्त नहीं कर पाए और साजिश के तहत उसकी हत्या कर दिया। शव पूरी तरह से सड़ जाने के कारण उसके जांच के लिए रांची फॉरेंसिक लैब भेज दिया गया। मृतक नाबालिग अपने पिता और चाचा का इकलौता वारिस था। इसके मौत से पूरा परिवार गहरे सदमे में डूबा हुआ है। माता पिता के करुण चितकार से पूरा थाना परिसर गमगीन बना हुआ है। घटना की जानकारी मिलने के बाद एसडीपीओ अविनाश कुमार हंटरगंज पहुंचकर हत्यारों से पूछताछ कर रहे हैं। दोनों हत्यारों के अलावा लड़की के पिता भाई सहित अन्य लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

%d bloggers like this: