May 16, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कॉविड 19 के बढ़ते मामले और संबंधित तैयारियों को लेकर मंत्री रामेश्वर उरांव ने वरीय पदाधिकारियों के साथ की बैठक

स्वास्थ्य सुविधाओं में बढ़ोत्तरी का दिया आदेश

लोहरदगा:- राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति डॉ0 रामेश्वर उरांव ने आज लोहरदगा समाहरणालय में जिले के वरीय पदाधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना संक्रमण से उत्पन्न स्थिति की समीक्षा की और संक्रमितों के समुचित इलाज की व्यवस्था, घर वापस लौट रहे प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने तथा हर जरूरतमंद परिवार को अनाज और भोजन उपलब्ध कराने को लेकर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।
बैठक में वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री द्वारा राज्य में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए और उससे संबंधित लोहरदगा जिले में आवश्यक तैयारियों को लेकर जानकारी ली एवं आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के चेन को तोड़ने के जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम ज्यादा से ज्यादा लोगों की टेस्टिंग, ट्रैकिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दें। अस्पतालों में ऑक्सीजन, दवाइयों की पर्याप्त व्यवस्था रखें। ऑक्सीजन की कमी जिले में ना हो, इसकी मॉनिटरिंग प्राथमिकता देते हुए करें। अस्पतालों में स्टाफ की आवश्यकता पड़े तो आउटसोर्सिंग से भी नियुक्त किये जा जायें।
डॉ0 उरांव ने अधिकारियों यह भरोसा दिलाया कि लोहरदगा जिला को जब भी अतिरिक्त बेड व ऑक्सीजन सिलिंडर की आवश्यकता होगी, वे इस दिशा में मदद करने के लिए तैयार हैं। अभी टीकाकरण के माध्यम से कोरोना को हराया जा सकता है। टीकाकरण के लिए अधिक से अधिक लोगों को प्रेरित किया जाय। डॉ उरांव द्वारा सिविल सर्जन को निदेश दिया गया कि नये डायलिसिस सेंटर का निर्माण कार्य जल्द प्रारंभ करायें।
बैठक के दौरान उपायुक्त दिलीप कुमार टोप्पो द्वारा यह जानकारी दी गई कि जिले के प्रमुख भीड़-भाड़ वाले स्थलों में प्रतिदिन कोरोना टेस्टिंग की जा रही है। शहर के बस स्टैण्ड, कुडू-लोहरदगा पथ, बेड़ो-लोहरदगा पथ व लोहरदगा रेलवे स्टेशन में प्रतिदिन यात्रियों की जांच की जा रही है। मुख्य सड़क व चौक-चौराहों, बाजार-हाट में मास्क चेकिंग का अभियान चलाया रहा है। अभियान चलाकर चिन्हित स्थलों में 45 वर्ष से उपर की उम्र के व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा रहा है। जिला स्तर व प्रखण्ड स्तरों में टीकाकरण के लिए प्रचार-प्रसार के माध्यमों से भी लोगों को प्रेरित किया जा रहा है। इस दौरान उप विकास आयुक्त ने बताया कि जिला में वर्तमान में 932 कोरोना संक्रमित मामले हैं। प्रतिदिन लगभग सौ या इससे अधिक नये सक्रिय मामले मिल रहे हैं। जिला में जिला नियंत्रण कक्ष चौबीसों घंटे सक्रिय है। सक्रिय मामलों की पुष्टि होने पर नियंत्रण कक्ष से ही एक प्रतिनियुक्त टीम के द्वारा संक्रमित लोगों की काउंसेलिंग की जा रही है। उन्हें समय पर दवाइयां खाने, नियमित तौर भाप लेने और समय आने पर अपना वैक्सीन लेने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। बैठक में सिविल सर्जन द्वारा बताया गया कि होम आइसोलेशन के दौरान दी जाने वाली दवाइयों की पर्याप्त मात्रा जिला के अस्पताल में है। ऑक्सीजन सिलिंडर खत्म होने पर तुरंत उसे रिफिल करा लिया जा रहा है। जिला में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। जिला में ऑक्सीजन की सुविधा वाले कुल 45 बेड तैयार हैं जिनमें अभी 21 बेड फुल हैं। आज से वेंटीलेटर की सुविधा भी सदर अस्पताल में प्रारंभ हो रही है। इसके लिए दो चिकित्सकों को प्रशिक्षित किया गया है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: