अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मंत्री रामेश्वर उरांव ने ऑस्कर फर्नांडिस के निधन पर शोक जताया


रांची:- झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष और राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने पार्टी के वरिष्ठ नेता ऑस्कर फर्नांडिस के निधन पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है।प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आलोक कुमार दूबे ,लाल किशोर नाथ शाहदेव और डॉक्टर राजेश गुप्ता छोटू ने भी पार्टी के दिग्गज, सर्वमान्य और संगठन के आधार स्तंभ रहे ऑस्कर फर्नांडिस के निधन की खबर को संगठन के लिए अपूरणीय क्षति बताया है।
खाद्य एवं वित्त आपूर्ति मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि ऑस्कर फर्नांडिस जैसे नेताओं ने अपना पूरा जीवन संगठन को समर्पित कर दिया और उन जैसे कार्यकर्ताओं की बदौलत ही पार्टी आज लगतार आगे बढ़ रही है। संगठन के प्रति उनकी ईमानदारी कर्तव्यनिष्ठा और योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा।
आलोक कुमार दुबे ने कहा कि सार्वजनिक जीवन के प्रारंभिक काल में एनएसयूआई में रहने के दौरान उन्हें ऑस्कर फर्नांडीस जैसे नेताओं का आशीर्वाद प्राप्त हुआ और उनके मार्गदर्शन में ही राजनीतिक जीवन यात्रा की शुरुआत हुई। आज उनके निधन की दुखद खबर मिली है मन पूरी तरह से व्यथित है। ईश्वर उन्हें अपने श्री चरणों में स्थान दे और परिजनों को दुख सहने की शक्ति प्रदान करें। उन्होंने कहा कि ऑस्कर फर्नांडिस यूपीए सरकार में सड़क-परिवहन मंत्री भी रह चुके हैं। वर्तमान में वह राज्यसभा सांसद थे। ऑस्कर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के संसदीय सचिव भी रह चुके हैं। ऑस्कर फर्नांडिस को कुछ हफ्ते पहले ही मंगलुरु के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसी साल योग करते वक्त उन्हें चोट आ गई थी जिसके बाद वह बीमार हो गए थे।1980 में वह कर्नाटक की उडुपी सीट से सांसद चुने गए। उसके बाद 1996 तक वह लगातार यहां से जीतते आए हैं। 1998 में कांग्रेस ने उन्हें राज्यसभा भेज दिया था।
वरिष्ठ नेता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने दुःख व्यक्त करते हुए कहा कि ’ऑस्कर फर्नांडिस जी एक मार्गदर्शक, संरक्षक, संगठन के निर्माता थे, जो कांग्रेस कार्यकर्ताओं से जुड़े हुए थे और बदले में उनसे प्रेम मिलता था। आज कांग्रेस का एक बरगद का पेड़ गिर गया है। उनके जैसा शायद ही कोई होगा। शाश्वत कांग्रेसी को हमारी भावभीनी श्रद्धांजलि!
डॉ राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि ऑस्कर फर्नांडीस का निधन सिर्फ कांग्रेस पार्टी के लिए ही नहीं बल्कि पूरे देश के लिए अपूरणीय क्षति है।

%d bloggers like this: