अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने दारोगा लालजी यादव की मौत की उच्चस्तरीय जांच का आग्रह किया

मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर उच्चस्तरीय जांच का आग्रह



रांची:- दारोगा लालजी यादव आत्महत्या मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने के लिए राज्य के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखकर अनुरोध किया है साथ ही पत्र की प्रति राज्य के मुख्य सचिव एवं पुलिस महादिनेशक को भी भेजा है। मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने मुख्यंमत्री को लिखे अपने पत्र में उल्लेख किया है कि जिन परिस्थितियों में दारेगा लाल यादव ने आत्महत्या की है, उसे लेकर पूरे पलामू प्रमंडल एवं राज्य के अन्य जगहों में इस मामले को लेकर आम जनता अपने-अपने तरीके से इस पूरे घटनाक्रम का आकलन कर रहें हैं एवं भ्रम की स्थिति में है। स्थानीय समाचार पत्रों, सोशल मीडिया, सामाजिक संगठनों एवं राजनीतिक दलों के साथ भी अमूमन भ्रम की स्थिति बनी हुई है और सभी लोग अपने तरीके से विवादास्पद विचार व्यक्त कर रहें है। समाचार पत्रों में पूर्व में घटित पलामू जिलांतर्गत नावाबाजार थाना काण्ड संख्या-32/2021 को भी इस मामले से जोड़कर देखा जा रहा है साथ ही जिला परिवहन पदाधिकारी, पलामू द्वारा टेलिफोनिक अनुशंसा आदि को भी इस पूरे घटनाक्रम से जोड़कर देखा जा रहा है। परिणामस्वरूप समाचार पत्रों, सोशल मीडिया, सामाजिक संगठनों एवं राजनीतिक दलों तथा आमजनों में भ्रम एवं विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई है। इसलिए इस पूरे प्रकरण का पटाक्षेप होना आवश्यक है।
मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने कहा कि इस घटनाक्रम से उपजे विवाद एवं भ्रम की स्थिति समाज में स्पष्ट हो इसलिए आवश्यक है कि दारोगा लालजी यादव आत्महत्या मामले के साथ-साथ पलामू जिलांतर्गत नावाबाजार थाना काण्ड संख्या-32/2021 की उच्च स्तरीय जांच राज्य सरकार कराये ताकि दारोगा लालजी यादव के परिजनों को न्याय मिल सके तथा जनता के सामने भी दूध का दूध और पानी का पानी हो सके।

%d bloggers like this: