अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

लोगाें को फर्क समझ आ गया है भाजपा और कांग्रेस की सरकार में – नड्डा

भोपाल:- भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष जे पी नड्डा ने आज कहा कि मध्यप्रदेश में 15 सालों तक भाजपा की और फिर 15 माह तक कांग्रेस की सरकार रहने पर लाेगों को दोनों के कार्य करने के बारे में फर्क समझ आ गया है।
श्री नड्डा ने भाजपा की यहां आयोजित मध्यप्रदेश कार्यसमिति को केंद्रीय कार्यालय दिल्ली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया। उन्होंने कहा कि राज्य में 15 सालों में तीन बार भाजपा की सरकार रही और फिर इसके बाद 15 माह तक कांग्रेस सरकार रही। लंबे समय तक भाजपा की सरकारें रहने से लोग भूल गए थे कि कांग्रेस की सरकारें किस तरह चलती हैं, लेकिन 15 महीने की कांग्रेस सरकार ने लोगों को भाजपा और कांग्रेस की सरकारों का अंतर समझा दिया।
श्री नड्डा ने कहा कि 15 माह के कांग्रेस शासनकाल में वसूली, भ्रष्टाचार और ट्रांसफर का बोलबाला रहा। उस सरकार ने कैसे काम किया, यह किसी से छिपा नहीं है। लेकिन फिर भाजपा की सरकार आयी और उसने प्रदेश को कई मामलों में देश का ‘नंबर वन’ राज्य बना दिया है। पार्टी के कार्यकर्ताओं को यह बात जनता तक पहुंचानी चाहिए।
”सेमी वर्चुअली” तरीके से आयोजित प्रदेश कार्यसमिति की बैठक यहां प्रदेश भाजपा कार्यालय में प्रारंभ हुयी। इस बैठक में श्री नड्डा जी के साथ केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत, नरेंद्र सिंह तोमर, प्रहलाद पटेल, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय एवं वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया केंद्रीय कार्यालय में उपस्थित थे। केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने दुपट्टा भेंटकर श्री नड्डा का स्वागत किया एवं श्री विजयवर्गीय ने उन्हें स्मृति चिन्ह भेंट किया।
राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत, सह संगठन महामंत्री हितानंद और अन्य पदाधिकारी प्रदेश कार्यालय में उपस्थित थे। बैठक में कार्यसमिति के अन्य सदस्य अपने-अपने जिलों से वर्चुअली उपस्थित हुए।
श्री नड्डा ने अपने संबोधन में कहा कि देश में कई लोग किसान नेता होने का दम भरते हैं, लेकिन इन्होंने किसानों के लिए कुछ नहीं किया। देश में किसानों का सबसे बड़ा हितैषी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं और किसान हित के निर्णयों को लागू करने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हैं। श्री नड्डा ने कहा कि मध्यप्रदेश आज समर्थन मूल्य पर खरीदी के मामले में देश में नंबर-1 राज्य है। प्रदेश सरकार ने गेहूं की रिकॉर्ड खरीदी की है और मध्यप्रदेश पंजाब को पीछे छोड़कर पहले स्थान पर आ गया है।
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राज्य सरकार ने किसान कल्याण पर 90 हजार करोड़ रुपयों की राशि खर्च की है। इसके अलावा डीबीटी यानि सीधे खातों में राशि पहुंचाने के मामले में मध्यप्रदेश नंबर-1 राज्य है। सड़क निर्माण की गुणवत्ता और जन आरोग्य योजना के कॉर्ड जनरेशन में भी प्रदेश नंबर-1 है। मध्यप्रदेश सरकार ने 50 लाख स्ट्रीट वेंडर्स को आर्थिक सहारा दिया है। सरकार जिन परिवारों का कोविड संकट में नुकसान हुआ है, उन्हें आर्थिक मदद दे रही है। बेसहारा बच्चों को पेंशन और फ्री एजुकेशन, उपचार दे रही है। भाजपा सरकार मुसीबत के समय भी काम करती है, इस बात को कार्यकर्ता जनता तक पहुंचाएं।
श्री नड्डा ने कहा कि प्रदेश सरकार ने प्रवासी मजदूरों के खाते में 15 करोड़ रुपयों से अधिक की राशि डाली है। श्रम सिद्धि अभियान के दौरान सरकार ने 60 लाख जॉब होल्डर्स को 32 करोड़ दिनों का रोजगार उपलब्ध कराया है। रोजगार सेतु के माध्यम से 45 हजार वर्कर्स को रोजगार उपलब्ध कराया है। प्रदेश में चंबल और नर्मदा एक्सप्रेस वे का काम शुरू होने जा रहा है। श्री नड्डा ने कहा कि सरकार की योजनाएं किस तरह से लोगों की तस्वीर और तकदीर बदलती हैं, यह बात कार्यकर्ता जनता तक पहुंचाएं।
कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यह एक अद्भुत कार्यसमिति की बैठक है, जिसमें दिल्ली से लेकर संगठन के 57 जिलों तक के कार्यकर्ता जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में अब कोरोना कंट्रोल में है। प्रदेश अब 1200 एक्टिव केस बचे हैं। 31 जिले ऐसे हैं, जहां एक भी कोरोना संक्रमित नहीं है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने में मध्यप्रदेश संगठन की इकाई के हजारों-लाखों कार्यकर्ताओं का योगदान रहा है।
श्री चौहान श्री मोदी का स्मरण करना भी नहीं भूले और कहा कि उनके नेतृत्व के कारण आज हम कोरोना को हराने में सफल हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री वैक्सीन के इंतजाम कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस नेता राहुल गांधी वैक्सीन को लेकर सवाल उठा रहे हैं। उन्हें यह पता होना चाहिए कि चिकनपोक्स महामारी विदेशों में खत्म होने के बाद तत्कालीन कांग्रेस सरकार उसका टीका 5 साल बाद दे पाई थी। इसी तरह पोलियो टीका 20 साल बाद भारत को मिला था। लेकिन आज देश ने 9 महीने में ही दो-दो स्वदेशी वैक्सीन तैयार कर ली हैं। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि हम जानते हैं कि कोरोना की वर्तमान परिस्थितियों के कारण देश और प्रदेश प्रभावित हुआ है। उन्होंने कहा कि चुनौती को अवसर में बदलना सीखना है तो हम श्री मोदी से सीख सकते हैं। कोरोना की चुनौतियों के बावजूद उन्होंने हमारे जीवन को बचाने के लिए हर संभव प्रयास किए। हमारे मुख्यमंत्री श्री चौहान शपथ लेते ही कोरोना संकट से मुकाबले में जुट गए। बैठक के दौरान प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत ने पार्टी की आगामी गतिविधियों एवं कार्यक्रमों की जानकारी दी। दिवंगत नेताओं, कार्यकर्ताओं एवं समाजजनों को श्रद्धांजलि देने के लिए प्रदेश महामंत्री हरिशंकर खटीक ने शोक प्रस्ताव रखा। राजनैतिक प्रस्ताव प्रदेश महामंत्री शरतेन्दु तिवारी ने प्रस्तुत किया।

%d bloggers like this: