April 17, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रमजान नदी एवं पर्यावरण संरक्षण की गुहार लेकर डी एम को सौंपा गया ज्ञापन

किशनगंज 01मार्च:- स्वच्छ भारत, स्वच्छ पर्यावरण की कल्पना में केन्द्र सरकार के स्वच्छता अभियान से प्रभावित होकर सारा देश आज जागरूक हो गया है। ऐसे में किशनगंज की हृदय रेखा कही जाने वाली रमजान नदी की अविरल धारा थम-सी गई है। इस नदी के आस -पास बसने वाले हो या शहर के किसी भाग में रहने वाले स्थानीय लोगों के द्वारा गंदगी डालने के कारण नदी का जल दूषित तो हो ही गया है तथा जल जीवों के नामों निशान इस नदी से मिट गए हैं और तो और कोविड 19संक्रमण काल में स्थानीय लोगों को स्वच्छ हवा भी दूभर हो गई है। इन्हीं सब कारणों से रमजान नदी एवं पर्यावरण संरक्षण की गुहार लेकर यहां के समाजसेवी युवाओं का एक शिष्टमंडल आज जिला पदाधिकारी डाॅ आदित्य प्रकाश से मिला तथा तीन सूत्रीय मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा।
शिष्टमंडल के नेतृत्वकर्ता माधव मनी त्रिपाठी ने कहा कि जिलाधिकारी को दीये गए ज्ञापन में तीन मांगों में प्रमुख मांग नदी की धारा में जो रूकावट है उसे दूर कराने का प्रयास हो, शहर के नाले से गंदगीयुक्त जल रमजान नदी में बहाने पर रोक हो तथा तीसरी अहम मांग है कि भू-माफियों के चंगुल से नदी का वास्तविक क्षेत्रफल को बचाया जाए ताकि पुनः शहरी क्षेत्र के बीचों-बीच रमजान नदी का मूल स्वरूप वापस हो सके।
उल्लेखनीय है कि ज्ञापन की हस्ताक्षरित प्रतिलिपि प्रधानमंत्री भारत सरकार,राष्ट्रीय हरित अधिकरण नई दिल्ली, मंत्री जल शक्ति मंत्रालय भारत सरकार एवं सचिव जल शक्ति मंत्रालय बिहार सरकार, पटना को प्रेषित करने की जानकारी आवेदन से प्राप्त हुई।
मौके पर समाजसेवी युवा शिष्टमंडल के अन्य प्रमुख लोगों में मोहित चौधरी,राजेश रंजन प्रसाद एवं आमंत पासवान इत्यादि शामिल थे।

संवाददाता सुबोध

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: