अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

उर्वरक कम्पनी एवं उर्वरक थोक विक्रेताओं के साथ बैठक

रांची:- रांची के उपायुक्त छवि रंजन के निर्देश पर आज जिला कृषि पदाधिकारी राँची की अध्यक्षता में ख़रीफ़ मौसम में उर्वरक की उपलब्धता हेतु उर्वरक कम्पनी एवं उर्वरक थोक विक्रेताओं के साथ बैठक आहूत की गयी।
सर्वप्रथम जिले में विभिन्न उर्वरकों यथा यूरिया, डीएपी, एनपीके आदि की उपलब्धता की समीक्षा की गयी।
वर्तमान में यूरिया का जिले में लगभग 10 हज़ार मीट्रिक टन भंडार है, इसी प्रकार डीएपी का लगभग 6000 मीट्रिक टन भंडार है।
जिले में ख़रीफ़ मौसम में लगभग 2.30 लाख हेक्टेयर में खेती होती है, जिसमें धान का क्षेत्र 1.71 लाख हेक्टेयर है।
ख़रीफ़ मौसम में लगभग 30000 से 35000 मीट्रिक टन यूरिया की आवश्यकता होगी। उपलब्ध भंडार के अनुरूप इस माह क़रीब अतिरिक्त 8000 मीट्रिक टन , अगस्त माह में 12000 मीट्रिक टन एवं सितम्बर माह में 5000 मीट्रिक टन यूरिया की आवश्यकता होगी। जिससे कृषि निदेशालय को अवगत कराने का निर्णय लिया गया।
बैठक में उपस्थित इफको, यारा, इडोरमा और पीपीएल कम्पनी के प्रतिनिधि को निदेश दिया गया कि जिले में उर्वरक की उपलब्धता थोक विक्रेताओं के बीच पर्याप्त मात्रा में सुनिश्चित कराए ताकि किसानों को सुगमता पूर्वक उर्वरक उपलब्ध हो सके।
थोक उर्वरक विक्रेताओं को निदेश दिया गया कि किसी भी खुदरा उर्वरक विक्रेता को 10 मीट्रिक टन से अधिक यूरिया की आपूर्ति नहीं करेंगे एवं किसी भी परिस्थिति में 20 मीट्रिक टन से अधिक का भंडार ना हो। इससे जमाख़ोरी पर नियंत्रण होगा एवं कालाबाज़ारी नहीं होगी।
सभी थोक उर्वरक विक्रेताओं को अपने अपने खुदरा विक्रेताओं को म-चवे मशीन से ही उर्वरक की बिक्री हेतु निर्देशित करने हेतु कहा गया।

%d bloggers like this: