अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बांग्लादेश मुक्ति युद्ध 1971 की 50 वीं वर्षगांठ कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए बैठक

धनबाद:- झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार ,बांग्लादेश मुक्ति युद्ध 1971 की 50 वीं वर्षगांठ कार्यक्रम को सफल बनाने को लेकर जिला अध्यक्ष ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में जिला कांग्रेस कार्यालय में एक बैठक आयोजित की गई,बैठक में झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा बनाए गए धनबाद जिला समन्वयक विजय कुमार सिंह मुख्य रूप से उपस्थित थे।
बैठक में जिलाध्यक्ष ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा कि बांग्लादेश का स्वतंत्रता संग्राम 1971 में हुआ था, कांग्रेस पार्टी बांग्लादेश मुक्ति युद्ध 1971 की 50वीं वर्षगांठ मना रही है, इसे मुक्ति संग्राम भी कहते हैं,यह युद्ध वर्ष 1971 में 25 मार्च से 16 दिसंबर तक चला था,इस रक्तरंजित युद्ध के माध्यम से बंगलादेश ने पाकिस्तान से स्वाधीनता प्राप्त की ओर 16 दिसम्बर 1971 को बंगलादेश बना।
आगे श्री सिंह ने कहा कि देश के सबसे मजबूत सशक्त और तेजतर्रार नेत्री पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी ने 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में विश्व शक्तियों के सामने न झुकने के नीतिगत व समयानुकुल निर्णय क्षमता रखने वाली पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा ने न केवल इतिहास बल्कि पाकिस्तान को विभाजित करते हुए बांग्लादेश को अलग देश का निर्माण कर दक्षिण एशिया के भूगोल को ही बदल डाला।बैठक में पूर्व मंत्री मन्नान मल्लिक ने कहा कि देश के सबसे शक्तिशाली पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी ने भारत पाकिस्तान युद्ध में उन्होंने पाकिस्तान को विभाजित कर बांग्लादेश को अलग देश का निर्माण कर दक्षिण एशिया के भुवन को ही बदल डाला । बैठक में बांग्लादेश मुक्ति युद्ध 1971 50वीं वर्षगांठ कार्यक्रम के धनबाद जिला समन्वयक विजय कुमार सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के निर्देशानुसार ,बांग्लादेश मुक्ति युद्ध 1971 की 50 वी वर्षगांठ देश के सभी जिलो में मनाई जा रही है ,आज से 50 वर्ष पूर्व बांग्लादेश का स्वतंत्रता संग्राम 1971 में हुआ था ,इसे मुक्ति संग्राम भी कहते हैं,इस रक्तरंजित युद्ध के माध्यम से बांग्लादेश ने पाकिस्तान से स्वाधीनता प्राप्त की और 16 दिसंबर 1971 को बांग्लादेश बना, पाकिस्तान पर यह जीत कई मायनों में ऐतिहासिक थी और इस युद्ध में हजारों हजार पाकिस्तानी सैनिकों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया गया था, इस युद्ध में देश के शक्तिशाली पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी का ऐतिहासिक योगदान रहा ,जिन्होंने पाकिस्तान को विभाजित कर बांग्लादेश का निर्माण किया। कार्यक्रम में मुख्य रुप से पूर्व मंत्री मन्नान मल्लिक,विजय कुमार सिंह कार्यकारी अध्यक्ष शंकर प्रजापति मदन महतो, शमशेर आलम, योगेन्द्र सिंह योगी,राशिद रजा अंसारी,माला झा,किरीटी भूषण रूज, मंटू दास, कुमार:संभव, मनोज यादव, पप्पू पासवान, कुमार सौरव ,जाहिर अंसारी, गोपाल कृष्ण चौधरी, अशोक लाल ,पप्पू कुमार तिवारी, आसिफ रजा, सरफुद्दीन अंसारी, जयप्रकाश चौहान ,अनु पासवान, इम्तियाज आलम ,मनोहर हुसैन समेत दर्जनों कांग्रेसजन मौजूद थे।

%d bloggers like this: