गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया है। वह 63 वर्ष के थे। पूर्व रक्षा मंत्री एक वर्ष से अधिक समय से अग्नाशय संबंधी बीमारी से जूझ रहे थे। श्री पर्रिकर का निधन पणजी में उनके बेटे के घर पर हुआ।
सादगी और मनोहर व्यक्तित्व के लिए चर्चित रहे गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत तमाम नेताओं और हस्तियों ने श्रद्धांजलि दी है। राष्ट्रपति ने पर्रिकर को याद करते हुए लिखा, ‘मनोहर पर्रिकर के निधन की खबर सुनकर बेहद दुखी हूं। सार्वजनिक जीवन में वह अखंडता और समर्पण के प्रतीक थे। गोवा और देश के लोगों के प्रति उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकेगा।
श्री पर्रिकर को पिछले साल फरवरी में अग्नाशय की बीमारी का पता चला था। उन्हें पिछले महीने पणजी के पास गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
तीन बार के मुख्यमंत्री ने जनवरी में कहा था कि वह “अंतिम सांस तक गोवा की सेवा करेंगे।” श्री पर्रिकर ने, हाल के महीनों में, नाक में ट्यूब के साथ सार्वजनिक रूप से उपस्थिति दिखाई थी, जो कमजोर दिख रही थी।
पूर्व रक्षा मंत्री का स्वास्थ्य कई दिनों से खराब था और शनिवार सुबह खराब हो गया। वह पिछले साल फरवरी से गोवा, मुंबई, दिल्ली और न्यूयॉर्क के अस्पताल में और बाहर थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: