अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

खाकी के अंदर से बाहर आई छुपी ममता, विक्षिप्त महिला की गोद में पड़ी नवजात को महिला RPF ने पिलाया दूध

रांची:- वो कहते हैं ना कि भगवान हर जगह नहीं पहुंच सकते इसीलिए उन्होंने मां को बनाया है और ममता दिखाने के लिए यह जरूरी नहीं कि कोई मां की अपनी ही बेटी हो बल्कि दूसरों के बच्चों के लिए भी मां की ममता बरकरार रहती है. इस बात को चरितार्थ किया है रांची रेलवे स्टेशन में आरपीएफ महिला इंस्पेक्टर प्रिया और लेडी कॉन्स्टेबल अर्पणा ने.

दरअसल, रांची रेलवे स्टेशन में अहले सुबह एक नवजात के रोने की आवाज से पूरा रेलवे स्टेशन परिसर गूंज गया. जब ड्यूटी पर तैनात महिला आरपीएफ ने ढूंढा तो उन्होंने देखा कि एक महिला की गोद मे बच्ची चीख रही है और महिला मदहोश है, उसे उसके बच्चे के रोने का कोई एहसास नहीं हो रहा है. जब उस महिला से पूछताछ की गई तो पता चला कि वह विक्षिप्त है.

महिला आरपीएफ ने पिलाया नवजात को दूध
वहीं, महिला की गोद में पड़ी बच्ची लगतार रो रही थी. बच्ची को भूख लगी थी और उसकी मां को इस बात का एहसास नहीं हो रहा था. जिसके बाद बच्ची की तरफ देखते हुए महिला इंस्पेक्टर और कॉन्स्टेबल ने तुरंत दूध की व्यवस्था की और ड्राप के जरिए नवजात को दूध पिलाया तब जाकर बच्ची का रोना बंद हुआ.

%d bloggers like this: