May 16, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

माले ने कोरोना राहत मामले में सिस्टम को पूरी तरह से बताया फेल

रांची:- माले रांची द्वारा जारी कॉविड हेल्पलाइन के पांचवे दिन हेल्पलाइन टीम के सदस्यों ने पीड़ितों की बेचैनी को सार्वजनिक तौर पर साझा करते हुए कहा कि कोरोना राहत के मामले में सरकारी सिस्टम पूरी तरह से फेल है। कोविड संक्रमण की हालात भयावह है, बचने के लिए चहुंओर त्राहिमाम मचा हुआ है।मरीजो की जान भगवान भरोसे है। 5 दिनों के भीतर हेल्पलाइन सेंटर में 523 से भी अधिक राहत के लिए कॉल आए जिसमें 280 मामले का समाधान किया गया। कोरोना का संक्रमण इस कदर है की हर 5 मिनट पर एक कॉल आ रहा है। राज्य के बाहर महाराष्ट्र, यूपी, बिहार, आंध्र प्रदेश जैसे दुसरे राज्यो में रह रहे प्रवासी मजदूर झारखंड में अपने बीमार परिजनों की मदद के लिए गुहार लगा रहे हैं। ज्यादातर मामले ऑक्सीजन सिलेंडर , वेंटिलेशन बेड , अस्पतालों में भर्ती के लिए बेड की समस्या के समाधान के लिए परिजन गुहार लगा रहे हैं। सरकारी तैयारी आग लगने पर कुआं खोदने जैसी है। निजी अस्पतालों में कोविड मरीजों से मनमाना वसूली के साथ साथ भारी भेदभाव किया जा रहा है। कोरोना से निपटने के मामले मे केंद्र और राज्य की सरकार पूरी तरह फेल है इस हकीकत को कबुलने के बजाय निर्लज्जता की हद पार कर एक दुसरे पर राजनितिक दोषारोपण किया जा रहा है । बड़े अधिकारी फोन तक नहीं उठाते है सरकारी कॉल सेंटर इतने दिनों के बाद थोड़ी सी सक्रियता आई है जो नाकाफी है। सभी डॉक्टरों का समुचित उपयोग, डोक्टरों से एडमिस्टेटिव वर्क की जिम्मेदारी वापस लेने के साथ साथ बड़े संकट से निपटने के लिए अब भी सरकारी स्वस्थ्य सेंटर को कारगर बनाने की जरूरत है। कोरोना के दूसरे चरण की भयावहता ने सरकारी दावे की पोलपट्टी खोल दिया है। पीएम केयर फंड में राशी की उपलब्धताके बावजूद सबसे कम खर्च पर बनने वाले ऑक्सीजन प्लांट तक राज्यो में नही बना पाना केंद्र ओर झारखंड सरकार की। बड़ी विफलता है। हेल्पलाइन के सदस्य अब सीधे अस्पतालों में जा कर निगरानी करेगें। सरकारी अस्पताल पीपी कीट उपलब्ध कराए तो माले कार्यकर्ताओं की टीम निःशुल्क सेवा देगें। प्रेस वार्ता में माले हेल्फ लाइन टीम के सदस्य जिला सचिव भूवनेश्वर केवट नगर सचिव नंदिता भट्टाचार्य, युवा मोर्चा के नेता आकाश रंजन छात्र नेता नॉरिन अख़्तर एवम एम डी आमानत ने सम्बोधित किया।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: