अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सरकारी योजनाओं को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचायेंः आयुक्त


मनरेगा बीपीओ एवं प्रधान सहायक को शो-कॉज
मेराल/गढ़वा:- प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचल अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में सरकार द्वारा संचालित योजनाओं को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना सुनिश्चित करें। लोगों को लाभ लेने के लिए प्रखंड व अंचल कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़े, इसका ध्यान रखें। योग्य लाभुकों तक सहजता से योजनाएं पहुंचे। पलामू प्रमंडल की मिट्टी कृषि योग्य है। इसलिए कृषि कार्यो को बढ़ावा देने के लिए बेहतर एवं इनोवेटिव काम किए जाने की आवश्यकता है। संभावनाओं की खेती को बढ़ावा दिया जाए, ताकि किसान भाइयों को कृषि कार्य का बेहतर मुनाफा मिल सके। रसदार फलों यथा संतरा, मौसमी, नींबू आदि के पौधे का पौधरोपण करना सुनिश्चित कराये जाने की जरूरत है। यह बातें आयुक्त जटाशंकर चौधरी ने कही। वे आज गढ़वा जिले के मेराल प्रखंड-सह-अंचल कार्यालय एवं थाना का निरीक्षण करने पहुंचे थे। निरीक्षण में गढ़वा उपायुक्त राजेश कुमार पाठक, उप विकास आयुक्त सत्येंद्र नारायण उपाध्याय एवं एसडीओ राज महेश्वरम भी थे।
निरीक्षण के दौरान आयुक्त ने पाया की गढ़वा जिले के मेराल प्रखंड क्षेत्र में नेनुआ, भिंडी, बैगन आदि विभिन्न प्रकार के सब्जी का उत्पादन बड़े स्तर पर होती है। नेनुआ की खेती को लेकर ही एक मोड़ का नाम भी नेनुआ मोड़ रखा गया है। ऐसे में आयुक्त ने नेनुआ सहित अन्य हरी साग-सब्जियों की उत्पादकता और बढ़ाने का निर्देश दिया। साथ ही गढ़वा उपायुक्त को रेफ्रिजरेटर युक्त वैन की व्यवस्था कराने हेतु तत्काल पहल करने का निदेश दिया, ताकि उत्पादित सब्जियों का दूसरे जगहों पर निर्यात किया जा सके। इससे किसानों को अधिक-से-अधिक मुनाफा दिलाया जा सके। आयुक्त ने जिले के मेराल प्रखंड क्षेत्र में पपीता, स्वीट कॉर्न, संतरा, मौसमी, नींबू आदि रसदार फलों की खेती को कलस्टर स्तर पर कराने का निर्देश दिया। वहीं इंटरक्रॉपिंग कर सब्जियों का उत्पादन पर बल दिया। इस हेतु किसानों को जागरूक एवं प्रोत्साहित करने का निदेश दिया, ताकि एक ही खेत में एक समय पर दो फसलों के उत्पादन का लाभ किसानों को मिल सके। आयुक्त ने खेती को कलस्टर स्तर पर लगवाने एवं अमरूद की खेती को बढ़ावा देने के लिए कलस्टर स्तर पर पैच तैयार कराकर अच्छे वेरायटी के अमरुद के पौधे का पौधरोपण सुनिश्चित कराने का निदेश दिया। इसके लिए यहां किसानों को हरिहरगंज प्रखंड क्षेत्र में स्थित अमरूद बागान का भ्रमण कराने का भी निदेश दिया। आयुक्त ने कृषि कार्य को गति देने के लिए वीएलडब्लू, बीपीओ, जेएसएलपीएस के बीपीएम एवं अन्य को समन्वय के साथ कार्य करने, कृषि संबंधित कार्यों का संयुक्त रुप से भ्रमण कराने का निदेश दिया। वहीं प्रखंड विकास पदाधिकारी को प्रखंड में चल रहे योजनाओं का निरीक्षण करते हुए विकास कार्यों में गति लाने का निदेश दिया।
आयुक्त जटाशंकर चौधरी ने प्रखंड क्षेत्र में उर्वरक की उपल्बधता सुनिश्चित कराने एवं कालाबाजारी पर कार्रवाई कार्रवाई करने का निदेश दिया।

%d bloggers like this: